Saturday, October 19th, 2019
Close X

मायावती के बचाव में उतरे, कैबिनेट सचिव शंशाक शेखर सिंह

आई. एन. वी. सी.,, लखनऊ ,, कैबिनेट सचिव श्री शंशाक शेखर सिंह ने मीडिया में आयी इन खबरों को पूरी तरह निराधार, तथ्यहीन और मनगढ़त बताया है, जिसमें यह कहा गया है कि उत्तर प्रदेश की मुख्यमन्त्री सुश्री मायावती के पैतृक गॉव बादलपुर (जनपद गौतमबुद्ध नगर) में उनके बंगले के सामने सुरक्षा कारणों से एक फौजी के मकान के निमार्ण कार्य को रोक दिया है। श्री सिंह ने आज यहां शास्त्री भवन स्थिति मीडिया सेन्टर में प्रेसप्रतिनिधियों को बताया कि वास्तविकता यह है कि वशZ 1995 जब से सुश्री मायावती उत्तर प्रदेश की मुख्यमन्त्री बनी हैं, तब से बादलपुर गांव में न तो उनकी कोई जमीन, मकान अथवा कोई अन्य सम्पत्ति ही है। वशZ 1995 के बाद वे बादलपुर गांव न कभी गईं और न कभी वहां रूकीं। अत: यह कहना बिल्कुल निराधार और असत्य है कि बादलपुर में उनके मकान का निर्माण कराया जा रहा है और मुख्यमन्त्री की सुरक्षा कारणों से सुरक्षा का मकान नहीं बनने दिया जा रहा है। कैबिनेट सचिव ने कहा कि महायोजना में आने के बाद ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण क्षेत्र में आने वाले अन्य गांवों में किये गये विकास की भान्ति बादलपुर गांव तथा उसके आसपास के क्षेत्र के विकास के लिए भी नौ मीटर चौड़ी सड़क को 30 मीटर चौड़ी करने के उद्देश्य के लिए गांव के उस ओर की भूमि का अधिग्रहण किया गया है, जिस ओर कम से कम से आबादी और मकान है। उन्होंने कहा कि सड़क के निर्माण में प्रभावित होने वाले मकान मालिकों को पुर्नवासित किया जायेगा और उन्हें प्रधिकरण नियमों के अनुरूप उचित मुआवजा तथा जमीन भी दी जायेगी। प्रवक्ता ने कहा कि गांव के मकान मालिकों ने मुआवजा स्वीकार कर लिया है। श्री सिंह ने कहा कि सड़क के चौड़ीकरण के लिए सूबेदार बिजेन्द्र नागर की कुछ भूमि अर्जित करके उन्हें उचित मुआवजा देने के लिए उनसे भी वार्ता की गई। परन्तु कुछ लोगों ने इस मामले को मुख्यमन्त्री से जोड़कर बिजेन्द्र नागर को बहकाया और उनकी राजनीति और बहकावा में आकर उन्होंने अपने मकान को बेचना स्वीकार नहीं किया। अब बिजेन्द्र नागर गांव के कुछ लोगों से मिलकर अनर्गल प्रचार कर रहा है, जिसका एक मात्र उद्देश्य अपना मकान बचाना है। श्री नागर सड़क निर्माण कार्य में बाधा उत्पन्न करने की साजिश कर रहे हैं। कैबिनेट सचिव ने कहा कि बादलपुर में प्रस्तावित सड़क को राश्ट्रीय मार्ग होते हुए मारीपत रेलवे हाल्ट से आने-जाने वाले लोगों की सुविधा के लिए जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि बिजेन्द्र नागर की 4110 वर्गमीटर भूमि अधिग्रहीत कर ली गई है। शेश 200 वर्गमीटर भूमि के अधिग्रहण की कार्यवाही प्रगति पर है। श्री सिंह ने कहा कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा नगरीय विकास के साथ-साथ इस क्षेत्र के 12 गांवों का उसी तर्ज पर बहुमुखी विकास भी किया जा रहा है। इसके तहत 5.71 करोड़ रूपये से सी0सी0रोड, डेªन आदि के आन्तरिक कार्य कराये जा रहे हैं और बाह्य कार्य कराने पर 6.87 करोड़ रूपये खर्च किये जाएंगे। प्रवक्ता ने कहा कि क्षेत्र में दो करोड़ रूपये की लागत से सीवर, नाली निर्माण आदि के कार्य कराये जायेगे। इसके अतिरिक्त दो “मशान घाटों का निर्माण कराया जायेगा। कैबिनेट सचिव ने कहा कि इस क्षेत्र में एक महिला पॉलीटेिक्नक खोला जा रहा है और एक बारात घर भी बनवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि बादलपुर में स्थित इण्टर कालेज के भवन की मरम्मत भी करायी जा रही है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment

Online Prescription Meds, says on May 10, 2010, 5:30 AM

Pretty insightful post. Never thought that it was this simple after all. I had spent a good deal of my time looking for someone to explain this subject clearly and you’re the only one that ever did that. Kudos to you! Keep it up