Monday, December 16th, 2019

महिला प्रोफेसर ने लगाया यौन शोषण का आरोप - पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

महिला टीचर ने मीडिया को बताया कि केस दर्ज होने के बावजूद अब तक कोई कार्रवाई न तो कॉलेज प्रशासन की तरफ से और न ही मोतिहारी पुलिस की ओर से की गई है.
    विश्वविद्यालय के कुलपति के निजी सहायक पर आरोपइस मामले में दो अन्य आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज

बिहार में मोतिहारी का महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय आजकल सुर्खियों में है. ताजा मामला एक महिला गेस्ट टीचर का है जिन्होंने नगर थाने में केंद्रीय विश्वविद्यालय के तीन कर्मचारियों पर यौन शोषण का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया है. महिला गेस्ट टीचर ने विश्वविद्यालय के कुलपति के निजी सहायक (पीए) और सेक्सन अधिकारी दिनेश होददा व दो अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

नियुक्ति में साजिश का आरोप

महिला टीचर ने रविवार को मीडिया के साथ बातचीत में बताया कि उनकी नियुक्ति बतौर गेस्ट टीचर हुई थी लेकिन उन्हें साजिश का शिकार होना पड़ा. बिना कारण बताए उनकी नियुक्ति निरस्त कर दी गई. विश्वविद्यालय के तीनों कर्मचारियों पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए गेस्ट टीचर ने नगर थाने में मुकदमा दायर किया है.

पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

महिला टीचर ने मीडिया को बताया कि केस दर्ज होने के बावजूद अब तक कोई कार्रवाई न तो कॉलेज प्रशासन की तरफ से और न ही मोतिहारी पुलिस की ओर से की गई है. ऐसी स्थिति में उन्होंने तीनों कर्मियों के खिलाफ मोतिहारी सदर एसडीओ को लिखित आवेदन देकर करवाई करने का आग्रह किया है. वहां से भी कोई कार्रवाई नहीं होने की सूरत में उन्होंने अनशन पर बैठने की चेतावनी दी है.

एसडीओ को भेजी शिकायत

महिला गेस्ट टीचर ने एसडीओ को लिखे आवेदन में अपने हक की लड़ाई लड़ने की बात कही है. उन्होंने अपनी जान की भी चिंता जताई है और कहा है कि आरोपियों से उन्हें खतरा है, इसलिए इसे भी संज्ञान में लिया जाए. दूसरी ओर, नगर थानाध्यक्ष अभय कुमार ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर आगे की जांच शुरू करने की बात कही है. इस संबंध में पीए दिनेश होददा और अन्य आरोपियों से प्रतिक्रिया लेने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने इस बारे में मीडिया से बात करने से इनकार कर दिया. PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment