Sunday, April 5th, 2020

महिला अपने माता-पिता का नाम रोशन कर रही हैं : गीता भुक्कल

education minister of hariyana geeta bhukkalसुखजीवन शर्मा,, आई.एन.वी.सी,, पंचकूला,, हरियाणा की शिक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री गीता भुक्कल ने कहा कि महिला आज समाज के किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से कम नहीं है तथा वे अपने माता-पिता का नाम रोशन कर रही हैं। हमारी पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इन्दिरा गांधी जिन्हें विश्व में आयरन लेडी के नाम से जाना जाता था वे भी जवाहर लाल नेहरू की एक मात्र संतान थीं। भुक्कल आज राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राजकीय कन्या महाविद्यालय, सैक्टर 14, पंचकूला में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में मु य अतिथि के रूप में बोल रहीं थी। उन्होंने कहा कि आज यह कार्यक्रम पूरे देश व राज्यों में मनाया जा रहा है। हालांकि इसकी जरूरत नहीं हैं। नवरात्रों में कन्या पूजन के लिए हम कन्याओं को ढूंढते हैं लेकिन नवरात्रों में ही उन्हें क्यूं याद किया जाता है। हमें पूरे वर्ष कन्याओं को स मान देना चाहिए। आज समाज में सामाजिक असंतुलन देखने को मिल रहा है इसके बारे में हमें सोचना है और सामाजिक मानसिकता में परिवर्तन लाने की अति आवश्यक्ता है। उन्होंने कहा कि बेटा व बेटी एक ही सिक्के के दो पहलु हैं। मु यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में महिलाओं के उत्थान के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं व कांग्रेस के हाल ही में जयपुर में स पन्न हुए चिंतन शिविर में भी महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर विशेष बल दिया गया। उन्होंने कहा कि मु यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा की सोच हमेंशा महिला सशक्तिकरण की है। उन्होंने जहां एक ओर इन्दिरा गांधी प्रियदर्शनी विवाह शगुन योजना में कन्यादान राशि 31 हजार की है वहीं दूसरी ओर गैर सरकारी संगठनों द्वारा करवाए जाने वाले सामूहिक विवाह के अवसर पर कन्यादान के रूप में 11-11 हजार रूपए की घोषणा की है तथा इस संबंध में प्रदेशे के उपायुक्तों को भी आवश्यक निर्देश दिये गए हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में देश में कुछ महिलाओं के साथ हुई दुर्घटनाओं के बारे में जान कर दुख होता है। सरकार अकेली कुछ नहीं कर सकती। कडे कानून बनाए जाएं और हमें अपनी सोच में परिर्वतन लाना होगा तभी हम इन घटनाओं पर अंकुश ला सकते हैं। महिलाओं को अपनी शक्ति को पहचानना होगा क्योंकि ऐसा कोई क्षेत्र नहीं जहां महिलाएं आगे न हो। उन्होंने स्मरण करवाया कि पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल, यू०पी०ए० अध्यक्षा सोनिया गांधी, लोकसभा की अध्यक्षा मीरा कुमार, केन्द्रीय महिला एवं बाल कल्याण मंत्री कृष्णा तीरथ और मैं भी हरियाणा सरकार में मंत्री हूं और हरियाणा महिला आयोग की अध्यक्षा ससुशीला शर्मा, उपाध्यक्ष चंद्र भ्रभा, जिला प्रशासन में पंचकूला की उपायुक्त आशिमा बराड, उपमण्डल अधिकारी ना० पंचकूला शरणदीप बराड, नगराधीश वंदना दिसोदिया एवं अन्य विभागों में भी कई महिला पदाधिकारी नियुक्त हैं जो उपस्थित छात्राओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत हैं। भुक्कल ने स्मरण करवाया कि कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरूक्षेत्र के दीक्षांत समारोह में देश की पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल जब मु य अतिथि के रूप में आई तो गोल्ड मैडल प्राप्त करने वाली पहले 10 स्थानों पर केवल छात्राएं थी जो हमारे लिए गौरव की बात है। शिक्षा मंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त की कि आज के समारोह में भी हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की 10 व 12वीं की बोर्ड की परीक्षा में जिन छात्राओं को स मानित किया गया उनमें शत-प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाली छात्राएं ही हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात का आश्चर्य है कि तीसरा स्थान प्राप्त करने वाली छात्राएं भी 99.65 प्रतिशत पर हैं। समारोह को महिला एवं बाल विकास विभाग की प्रधान सचिव श्रीमती धीरा खंडेलवाल एवं महानिदेशक श्रीमती सुमीता मिश्रा ने भी संबोधित किया और हरियाणा सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण एवं अन्य योजनाओं पर विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर कालेज की छात्राओं द्वारा कन्या भ्रुण हत्या पर आधारित एक लघु नाटिका भी प्रस्तुत की गई जिसे दर्शकों ने खूब सराहा। इस अवसर पर श्रीमती भुक्कल ने खण्ड मौलिक शिक्षा अधिकारी, बरवाला श्रीमती सुनीता नैन द्वारा लि िात शिक्ष प्रद लघु नाटिकाएं पुस्तक का विमोचन भी किया। इससे पूर्व नगराधीश वंदना दिसोदिया ने मु य अतिथि व अन्य अतिथियों का स्वागत एवं धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस अवसर पर कन्या भ्रुण हत्या पर लिखे गए स्लोगन के राज्य स्तरीय पुरस्कार के प्रथम पुरस्कार के लिए पंचकूला की कुमारी सुमन, भिवानी की कुमारी सविता व तृतीय स्थान के लिए पंचकूला की कुमारी कविता को क्रमश: 5000, 3000 व 2000 रूपए की नकद राशि व प्रशस्ति पत्र से स मानित किया गया। मु य अतिथि व अन्य विशिष्ट अधिकारियों ने समारोह में प्रदर्शित किए गए स्लोगन दूधो नहाओ पुत्रियो फलो की भूरि-भूरि प्रशंसा की। हरियाणा बोर्ड की 10वीं की बोर्ड की परीक्षा में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाली छात्राओं को स मानित किया गया जिनमें 100 प्रतिशत अंक प्राप्त करने के लिए जी०एन०जे०एन० गोयनका कन्या उच्च विद्यालय हिसार की कुमारी रितु शर्मा, होली चाईल्ड वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की मनीषा, एस०डी० वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, झज्जर की कुमारी दीपिका, देव ऋषि विद्या निकेतन, सोनीपत की कुमारी मीनाक्षी, जीवन ज्योति पब्लिक वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, पलवल की कुमारी ज्योति तोमर व गुरु ब्रहमानंद पब्लिक स्कूृल, करनाल की सुनैना को 8000-8000 रूपए की नकद राशि व प्रशस्ति पत्र देकर स मानित किया गया। इसी प्रकार 12वीं कक्षा की परीक्षा बोर्ड में 100 प्रतिशत अंक प्राप्त करने के लिए सरस्वति विद्या विहार वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय आसलवास दुबिया, भिवानी की कुमारी पूजा कुमार, 98.4 प्रतिशत अंक प्रापत करने पर दूसरे स्थान के लिए ए०एस० वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, पुडरी, कैथल की कुमारी नेहा राणा तथा 96.2 प्रतिशत अंक प्राप्त करने पर तीसरे स्थान के लिए श्री गुरु गोबिंद सिंह वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, जीवन नगर, सिरसा की बच्चन कौर को स मानित किया गया। पुरस्कार स्वरूप उन्हें क्रमश: 10000, 7000 व 5000 रूपए की नकद राशि व प्रशस्ति पत्र देकर स मानित किया गया। बोर्ड की 10वीं की परीक्षा में 99.8 प्रतिशत अंक से लेकर 99.6 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाली 17 अन्य छात्राओं को भी 5000 व 3000 रूपए का नकद पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र देकर स मानित किया गया। इस अवसर पर समारोह में उपायुक्त पंचकूला आशिमा बराड़, अतिरिक्त उपायुक्त जगदीप सिंह, कालेज के प्राचार्य डॉ० हरविन्द्र शर्मा, पूर्व पार्षद नगर परिषद पंचकूला मनवीर कौर गिल्ल, पाषर्द चांदवीर हुड्डा, बडी सं या में आंनबाडी कार्यकर्ता, महिला एवं बाल विकास विभाग एवं जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी भी उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment