Monday, February 24th, 2020

महिलाओं का जीवन अधिक जटिल

आई एन वी सी न्यूज़  
लखनऊ, 

महिलाएं हमारे समाज में उनके जन्म से लेकर जीवन के अंत तक विभिन्न प्रकार की महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाती हैं। आधुनिक समाज में कुशल भूमिका में सभी भूमिकाएं और समय पर नौकरी करने के बाद भी, वह कमजोर है क्योंकि पुरुष अभी भी समाज का सबसे मजबूत लिंग हैं। सरकार द्वारा समाज में बहुत सारे जागरूकता कार्यक्रमों, नियमों और विनियमों के बाद भी, उसका जीवन एक आदमी की तुलना में अधिक जटिल है। उसे बेटी, पोती, बहन, बहू, पत्नी, माँ, सास, दादी, आदि के रूप में अपना और परिवार के सदस्यों का ख्याल रखना पड़ता है। स्वयं, परिवार और देश के उज्ज्वल भविष्य के लिए बाहर आने और नौकरी करने में वह सक्षम है। यहा विचार पार्षद खुशबू राखी मिश्रा के ससुर राम भवन मिश्र ने रविवार 5 जनवरी को नव वर्ष के अवसर पर यूनाइट महिला शक्ति द्वारा आयोजित कार्यक्रम को संवोधित करते हुए व्यक्त किया।

नववर्ष के अवसर स्वच्छ बचपन सुरक्षित कार्यक्रम के अन्तर्गत "यूनाइट महिला शक्ति" जनकीपुरम लखनऊ ने सांस्कृतिक और खेलकूद प्रतियोगित का आयोजन दशहरा मेला पार्क में किया। जिसकी अध्यक्षता विमला त्रिवेदी, और ज्योत्सना सिंह कर रही थी। कार्यक्रम में बच्चों के बीच गीत-संगीत, डांस, कबड्डी, नेबू रेस, और जलीबी रेस प्रतियागिता का भी आयोजन हुआ। कार्यक्रम में बच्चों के साथ उनके माता-पिता, मोहल्ले के निवासी और विशिष्टजनों ने भी भाग लिया।

इस दौरान कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मोहल्ले के सभासद दीपक मिश्र ने कहा कि घरेलू महिलाएं बिना स्वार्थ के घर का सब काम करती हैं, अगर हम उनकी जगह पर कोई घर का काम करने वाली नौकरानी रखते हैं तो उसे वेतन देते हैं, लेकिन हमारे घर की महिलाएं बिना किसी के वेतन के निस्वार्थ भाव से काम करती हैं।  उन्होंने कहा कि सभी कामों को अर्थ से नहीं जोड़ना चाहिए हमे खुद भी कुछ काम निस्वार्थ भाव से करने चाहिए। आज महिलाएं हर काम क्षेत्र में आगे बढ़ रही है और पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिला कर चल रही है।

नगरवासी राधेलाल गुप्ता ने उपस्थित लोगों से संवाद करते हुए कहा कि हमे दूषित पानी और खाना नहीं खाना चाहिए। पानी हमेशा साफ पीना चाहिए और खाना हाथ धूल कर खाना चाहिए। क्योंकि दूषित पानी और खाना हमारे शरीर के लिए कष्टदायी हो सकता है। बच्चों को हमेशा 2-3 तीन घन्टें खेलना चाहिए इससे वे स्वस्थ रहेगें।

विमला त्रिवेदी ने कहा कि इस कार्यक्रम का आयोजन इस उद्देश्य से किया गया है कि वो यहां मौजूद महिलाओं इस बात के लिए प्रेरित कर सकें कि कैसे घर बैठे वह रोजगार के अवसर तलाश सकती हैं। जिसमें सिलाई, आचार और पापड़ बनाने जैसे काम ऐसे हैं जो महिलाओं को घर बैठे रोजगार प्रदान कर सकते हैं।

कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कृष्ण प्रकाश अग्रवाल ने कहा कि बच्चें ही भारत के भविष्य है इनका स्वस्थ रहना आवश्यक है। उन्होंने कहा आज देश की महिलाएं स्वावलंबी बन रही है जो घर परिवार के काम के साथ-साथ बाहर के भी छोटे- मोटे काम करके अपना परिवार भी चला रही है। महिलाओं का हमेशा सम्मान करना चाहिए।

भोजन  पर प्रकाश डालते हुए आईटीआर के पूर्व वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. उमाशंकर श्रीवास्तव ने कहा, बच्चों को हमेशी स्वास्थ्य वर्धक भोजन करना चाहिए। फास्ट फूड और ऑयल वाले भोजन से बचना चाहिए। उन्होंने कहा छोटे बच्चों को चॉकलेट और टॉफी, मिठाई और मोबइल से बचना चाहिए। क्योंकि ये बच्चों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। डॉ. श्रीवास्तव ने मातृ शक्ति को प्रणाम करते हुए कहा, आज हमारे देश की महिलाएं बहुत तरक्की कर रही है साथ ही देश के कोने से महिलाएं समाज को आगे बढ़ाने में अपना सहयोग दे रही है।

अपने संबोधन में यूनाइट फाउण्डेशन के अध्यक्ष डॉ. प्रमोद कुमार त्रिपाठी ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को नववर्ष की शुभकामनएं देते हुए कहा कि आज हमारे देश के भविष्य को बेहतर बनाने में महिलाओं का बहुत बड़ा योगदान है। साथ ही उन्होंने बच्चों को कुत्ते से होने वाली बीमारियों के बारे में और उनसे बचने का भी उपाय बताया।

खेल कूद प्रतियोगिता में भाग लेने वाले बच्चों और कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं को उनके समाज के प्रति अच्छे व्यवहार को लेकर  यूनाइट फाउण्डेशन की तरफ से प्रमाणपत्र वितरित किया गया, और प्रतियोगिता में शामिल बच्चों को पुरष्कार भी प्रदान किया गया। कार्यक्रम में यूनाइट महिला शक्ति जनकीपुरम-1 की अध्यक्ष विमाल त्रिवेदी, ज्योत्सना सिंह, चित्रा त्रिपाठी, शिवानी राय, सुधा श्रीवास्तव, नाज खान, संगीत सिंह, मंजू सिंह, संगीता प्रधान, सुनीता सिंह, वंदना सिंह, माधुरी पाण्डेय, रजनी भदौरिया, अंजना सिंह, ममता सिंह, प्रीती सिंह, रिंकू यादव, कुमकुम सिंह, अचला तिवारी, उर्मिला मिश्रा, अल्का सिंह, प्रमोद त्रिपाठी, डॉ. उमाशंकर श्रीवास्तव, अशोक कुमार, राधेलाल, दीपक मिश्र, रत्न शर्मा, राम भवन मिश्र, विष्णुकान्ती शुक्ला,  सरला और समस्त जनकीपुरम के निवासी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन विमला त्रिवेदी और यूनाइट फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष राधेश्याम दीक्षित ने किया।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment