Thursday, December 5th, 2019

महिलाआेंं की सुरक्षा सर्वार्च्च प्राथमिकता

आई एन वी सी न्यूज़ लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि प्रदेश सरकार महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान को सर्वाच्च प्राथमिकता देने के साथ ही उनकी आत्मनिर्भरता और कल्याण के लिए हर सम्भव कदम उठाने के लिए तत्पर है। महिलाओं के प्रति अपराधों पर नियंत्रण एवं नारी शक्ति के उन्नयन हेतु राज्य सरकार द्वारा अनेक कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। उन्हांने कहा कि बालिकाओं और महिलाओं को सुरक्षा और उन्हें समान अवसर उपलब्ध कराने के लिए समाज को भी आगे आकर अपनी भूमिका निभाने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री जी आज यहां एच0टी0 वुमेन अवार्ड-2018 के वितरण समारोह में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि महिला सम्बन्धी अपराधों की रोकथाम हेतु व्यापक पहल के दृष्टिगत राज्य सरकार ने कई कदम उठाए हैं। बालिकाओं की सुरक्षा के लिए ‘एण्टी रोमियो स्क्वाड’ का गठन किया गया है। साथ ही, ‘1090’ वुमेन पावर लाइन, घरेलू हिंसा का शिकार होने वाली महिलाओं के लिए ‘181’ महिला हेल्पलाइन का संचालन किया जा रहा है। इन सुविधाओं के प्रति महिलाओं को और अधिक जागरूक किए जाने की आवश्यकता है, जिससे उन्हें इनका पूरा लाभ मिल सके।

योगी जी ने कहा कि नाबालिग बच्चियों से दुष्कर्म के मामलों में दोषियों को फांसी की सजा दिलाये जाने के लिए राज्य सरकार द्वारा केन्द्र को प्रस्ताव भेजा गया था। केन्द्रीय कैबिनेट द्वारा इसे मंजूरी भी दे दी गई है। इसके लिए अध्यादेश भी लाया जा रहा है। किन्तु समस्या के समाधान के लिए कानून के साथ-साथ समाज को भी आगे आने की जरूरत है। बालक-बालिका को समान रूप से महत्व दिये जाने और समान व्यवहार किए जाने की आवश्यकता है मुख्यमंत्री जी ने कहा कि विगत वर्ष राज्य सरकार द्वारा बोर्ड परीक्षा के 147 सम्मानित मेधावी छात्र-छात्राओं में 99 बालिकाएं थीं। उन्होंने उम्मीद जताई की कि आज घोषित किए जाने वाले यू0पी0 बोर्ड परीक्षा परिणामों में पुनः बालिकाएं ही आगे होंगी। उन्होंने कहा कि बालिकाएं हर क्षेत्र में आगे हो सकती हैं। इस तथ्य की स्वीकार्यता के बगैर महिलाओं के बारे में सामाजिक दृष्टिकोण में बदलाव कठिन है। योगी जी ने कहा कि बालिकाओं पर अत्याचार की शुरुआत लिंग परीक्षण से ही हो जाती है। आवश्यकता इस बात की है कि बालिकाओं के प्रति होने वाले अत्याचारों को सामने लाकर अपराधी को सजा दिलायी जाए। इसके लिए समाज को आगे आकर अपनी भूमिका निभानी होगी। समाज व राष्ट्र के साथ हो रहे अपराध पर मौन रहना भी अपराध है। उन्होंने कहा कि कानून मनुष्य के लिए है, न कि मनुष्य कानून के लिए। समाज के आगे आने पर कानून उसका अनुसरण करेगा। कार्यक्रम में उपस्थित गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमण्डल खेलों में भारोत्तोलन में स्वर्ण पदक जीतने वाली सुश्री पूनम यादव को डिप्टी एस0पी0 पद का प्रस्ताव देते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमण्डल खेलों में प्रदेश के पांच खिलाड़ियों ने पदक जीते हैं। इनके सम्मान में शीघ्र ही समारोह का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन खिलाड़ियों को पुलिस-प्रशासन में स्थान दिया जाएगा।
हिन्दुस्तान टाइम्स की महिलाओं को सम्मानित करने की पहल की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा भी जीवन के अलग-अलग  क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करके समाज के सामने आदर्श प्रस्तुत करने वाली महिलाआें को रानी लक्ष्मीबाई सम्मान से पुरस्कृत किया जाता है। विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी बोर्ड परीक्षाओं के मेधावी छात्र-छात्राआें को सम्मानित किया जाएगा। राज्य सरकार महिलाओं से सम्बन्धित स्पेशल फोर्स की तीन बटालियन का गठन कर रही है। इसमें लगभग तीन हजार महिलाओं की भर्ती की जाएगी। कार्यक्रम को फिल्म निर्देशक अनुभव सिन्हा, प्रदेश की महिला भारोत्तोलक सुश्री पूनम यादव, सुश्री साक्षी एवं श्रीमती आशा देवी ने भी सम्बोधित किया। हिन्दुस्तान टाइम्स की सीनियर रेजिडेन्ट एडिटर सुश्री सुनीता ऐरन ने अतिथियों का स्वागत एवं धन्यवाद ज्ञापन किया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने विजेताओं को एच0टी0 वुमेन अवॉर्ड-2018 प्रदान किए। एच0टी0 वुमेन अवॉर्ड-2018 डॉ0 रोशन जहां तथा रनरअप अवॉर्ड सुश्री प्रियंका भट्टी को दिया गया। इसके अतिरिक्त रीडर्स च्वाइस कैटेगरी के अन्तर्गत श्री नवनीत सिकेरा तथा सुश्री शालू सिंह को सम्मानित किया गया। जजेज च्वाइस अवॉर्ड सुश्री मोनिका सिंह एवं सुश्री लक्ष्मी गौतम को प्राप्त हुआ। लेफ्टिनेन्ट निधि दुबे, सुश्री पुष्पा, सुश्री नेहा सिंह, सुश्री सुनीता एवं सुश्री आरती सिंह को एच0टी0 स्पेशल अवॉर्ड दिया गया। यंग सोसाइटी लीडर पुरस्कार सुश्री मौनी कजारिया, मृत्यु को चुनौती देने के लिए सुश्री रोमिता घोष, वॉरियर इन यूनीफार्म पुरस्कार सुश्री श्रेष्ठा ठाकुर, यूनिकली एबल्ड पुरस्कार सुश्री उषा शंकर, कल्चर मास्टर्स पुरस्कार सुश्री तूलिका साहू, सोशल वर्क के लिए पुरस्कार सुश्री अग्रिमा, सामाजिक लिंग समानता के लिए (पुरुष) पुरस्कार श्री विश्वजीत कुमार तथा बियाण्ड यू0पी0 पुरस्कार सुश्री सुदेशना सेन गुप्ता को प्रदान किया गया। इस अवसर पर प्रमुख सचिव सूचना श्री अवनीश कुमार अवस्थी, प्रख्यात गायिका एवं पुरस्कार चयन समिति की सदस्य श्रीमती मालिनी अवस्थी, फिल्म अभिनेता, लेखक तथा पुरस्कार चयन समिति के सदस्य श्री अतुल तिवारी, हिन्दुस्तान टाइम्स के पदाधिकारीगण तथा गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।


Comments

CAPTCHA code

Users Comment