Close X
Friday, October 30th, 2020

भ्रष्टाचार के मुद्दे पर उल-जलूल बयानबाजी करने वाली भाजपा ने हमेशा भ्रष्टाचार से समझौता किया है - बसपा

आई.एन.वी.सी,, लखनऊ,, बहुजन समाज पार्टी के प्रवक्ता ने भारतीय जनता पार्टी के नेता श्री मुख्तार अब्बास नकवी द्वारा आज राज्य सरकार के खिलाफ लगाये गये सभी आरोपों को बेबुनियाद तथा राजनीति से प्रेरित बताया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के खिलाफ मुद्दों की तलाश में विफल रहने के बाद बी0जे0पी0 अब ऐसे ’खुलासों’ के आधार पर राजनीति करने पर उतारू हो गयी है, जिनकी प्रमाणिकता का कोई आधार नहीं है। उन्होंने कहा कि बी0एस0पी0 नेतृत्व व उसकी सरकार पर झूठे, बेबुनियाद और अनाप-शनाप आरोप लगाने से पहले बी0जे0पी0 नेता यदि विभिन्न राज्यों में भ्रष्टाचार के गम्भीर आरोपों से घिरी अपनी पार्टी की सरकारों का संज्ञान लेते तो बेहतर होता।  बी0एस0पी0 प्रवक्ता ने यहां जारी एक बयान में कहा कि जिस प्रकार श्री नकवी ने कथित ’खुलासों’ का हवाला देते हुए बी0एस0पी0 सरकार पर आरोप लगाए हैं, उससे उनकी दलित विरोधी जातिवादी मानसिकता पूरी तरह बेनकाब हो गयी है। उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि बी0जे0पी0 सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं को देश के सबसे बड़े और राजनैतिक रूप से सर्वाधिक महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में दलित मुख्यमंत्री का नेतृत्व बर्दाश्त नहीं हो रहा।  पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि कथित ’खुलासों’ का आधार लेकर बी0एस0पी0 यदि चाहती, तो बी0जे0पी0 के नेतृत्व को कटघरे में काफी पहले ही खड़ा कर सकती थी। किन्तु एक जिम्मेदार राष्ट्रीय राजनैतिक दल होने के नाते बी0एस0पी0 ने परिपक्वता और संयम का परिचय देते हुए उस समय कोई टिप्पणी नहीं की, जब इन कथित ’खुलासों’ के जरिए बी0जे0पी0 सहित तमाम राजनीतिक दलों के नेताओं के नाम मीडिया में आए थे। इसके विपरीत कथित ’खुलासे’ के हवाले से जब मीडिया में बी0एस0पी0 व उसकी सरकार को लेकर बेबुनियाद और तथ्यहीन खबरें सामने आयीं, तो बी0जे0पी0 के नेता ने अनर्गल बयानबाजी कर स्तरहीन राजनीति का उदाहरण पेश कर दिया। प्रवक्ता ने कहा कि श्री नकवी को सबसे पहले आकण्ठ भ्रष्टाचार में डूबी अपनी पार्टी की राज्य सरकारों को सुधरने की सलाह देनी चाहिए। बी0जे0पी0 शासित कर्नाटक सरकार के तत्कालीन मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों से घिरे थे, जिसके कारण उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा। इसी प्रकार कुम्भ मेले के आयोजन को लेकर उत्तराखण्ड की बी0जे0पी0 सरकार पर भी बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं। इसी तरह मध्य प्रदेश की बी0जे0पी0 सरकार द्वारा गैर-कानूनी तरीके से कुशाभाऊ ठाकरे ट्रस्ट को आवंटित की गयी जमीन के फैसले को माननीय सर्वाेच्च न्यायालय द्वारा निरस्त कर दिया गया। उन्होंने कहा कि बी0जे0पी0 नेता को यदि वास्तव में भ्रष्टाचार की इतनी चिन्ता है तो उन्हें सबसे पहले अपनी राज्य सरकारों के भ्रष्टाचार के आंकड़े इकठ्ठा करके जारी करने का साहस करना चाहिए। पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री माननीया सुश्री मायावती जी के नेतृत्व में बी0एस0पी0 की राज्य सरकार कानून के द्वारा कानून के राज में विश्वास करती है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार अपने सभी फैेसले पूरी पारदर्शिता के साथ नियमानुसार ही करती है। उन्होंने कहा कि किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार की शिकायत मिलने पर दोषियों के विरूद्ध न केवल तत्काल कार्यवाही की जाती है, बल्कि आवश्कतानुसार उन्हें जेल भेजने से भी गुरेज नहीं किया जाता।  प्रवक्ता ने कहा कि भ्रष्टाचार के मुद्दे पर उल-जलूल बयानबाजी करने वाली भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा भ्रष्टाचार से समझौता किया है और आज भी सत्ता के लालच में पार्टी के नेता हर तरह का समझौता करने को तत्पर हंै। उन्होंने कहा कि जिस पार्टी के एक राष्ट्रीय अध्यक्ष रुपये लेते टी0वी0 कैमरे पर पकड़े गये हों, उस पार्टी के नेता जब भ्रष्टाचार पर बोलते हंै तो लोगों को आश्चर्य होता है। यह भी भूलने वाली बात नहीं है कि अपनी 13 दिन की पहली केंद्र सरकार में बी0जे0पी0 ने अमेरिकी ऊर्जा कंपनी एनरान की परियोजना को मंजूरी देने का एकमात्र फैसला लिया था। गौरतलब है कि इस एनरान कंपनी पर देश के तमाम नेताओंे को रिश्वत देने के आरोप लगे थे। कालान्तर मंे एनरान जिस तरह डूबी, उससे यह प्रमाणित भी हुआ कि उसके तमाम शीर्ष अधिकारी किस तरह भ्रष्टाचार के दलदल में फँसे हुए थे। ऐसे लोगों ने अपने हित साधने के लिए कौन से तरीके अपनाएं होंगे, उसे आसानी से समझा जा सकता है। बी0एस0पी0 प्रवक्ता ने कहा कि जनता को आज भी अच्छी तरह याद है कि किस प्रकार बी0जे0पी0 के नेतृत्व वाली केन्द्र की तत्कालीन एन0डी0ए0 सरकार ने केन्द्रीय सार्वजनिक उपक्रमों को औने-पौनेे दामों पर बेचने के लिए बाकायदा विनिवेश मंत्रालय का गठन किया था और जनता की गाढ़ी कमाई से स्थापित अनेक उपक्रमों को पंूजीपतियों और धन्नासेठों को सौंप दिया था। उन्होंने कहा कि  केंद्र की पूर्ववर्ती एन0डी0ए0 सरकार में बी0जे0पी0 के पेट्रोलियम मंत्री ने पेट्रोल पम्प के आवंटन में खुल कर नियमितता बरती थी।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment