रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की भूपेश बघेल सरकार अपने एक साल पूरे होने का जश्न मना रही है तो वहीं सूबे के पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह (Former CM Dr. Raman Singh) ने कांग्रेस सरकार के कार्यकाल पर सवाल खड़े कर दिए हैं. रमन सिंह ने कांग्रेस (Congress) सरकार को फेर करार दिया है तो वहीं सरकार को किए कुछ पुराने वादों की याद भी दिला दी. बता दें कि कांग्रेस सरकार के एक साल पूरा होने पर डॉ. रमन सिंह ने मंगलवार को राजधानी रायपुर (Raipur) में एक प्रेसवार्ता ली थी. इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा. साथ ही डॉ. रमन सिंह ने सरकार को एक बड़ी नसीहत भी दे दी है.

राज्य सरकार को बताया फेल

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कांग्रेस सरकार के एक साल पूरा होने पर मंगलवार को एक प्रेस कांफ्रेंस ली और राज्य सरकार के इस एक साल के कार्यकाल को फेल बताया. उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) को नसीहत देते हुए कहा कि वे केंद्र की चिंता ना करें, क्योंकि उन्हें छत्तीसगढ़ के लिए चुना गया है. राज्य सरकार पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि गेड़ी चढ़ने और सोटा खाने से राज्य का विकास नहीं होता. विकसित राज्य के लिए पुल-पुलिया और सड़क बनाने की जरुरत होती है.

सीएम भूपेश बघेल पर साधा निशाना

पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बार-बार केंद्र पर जो निशाना साधते हैं उसके बदले में उन्हें राज्य को देखना चाहिए. उन्होंने कहा कि राज्य में प्लान हॉलीडे चल रहा है. कांग्रेस ने सबसे पहले शराबबंदी का वादा किया था. आज धान खरीदी का समय कम हो गया है और शराब बिक्री के दो घंटे बढ़ा दिए गए हैं. डॉ. रमन सिंह ने कहा कि एक साल में ही सरकार ईवीएम से बैलेट पर आ गई है. उन्होंने कहा कि ये पहली सरकार है जिसे एक साल पूरा होने से पहले जनता ने नकार दिया था. लोकसभा के नतीजे काफी खराब आए.

डॉ. रमन सिंह ने लगाया आरोप

डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य में लगातार बेरोजगारी बढ़ी है. उन्होंने कहा कि नागरिकता देना केंद्र का काम होता है. अब छत्तीसगढ़ अलग से नागरीकता दे तो अलग बात है. आरोप लगाते हुए रमन सिंह ने कहा कि आज भूपेश सरकार में नक्सलियों के हौसले बढ़े हुए हैं. PLC.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here