Sunday, July 5th, 2020

भारत दोस्ती निभाने के साथ-साथ उचित जवाब देना भी जानता है

नई दिल्ली | कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी देश को अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात'  के जरिए से संबोधित कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'मन की बात' कार्यक्रम में कहा कि लोग कह रहे हैं कि यह साल ठीक नहीं है। लेकिन मैं कहता हूं कि एक साल में एक चुनौती आए या 50, साल कभी खराब नहीं होता है। लद्दाख गतिरोध पर पीएम मोदी ने कहा कि भारत दोस्ती निभाने के साथ-साथ उचित जवाब देना भी जानता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत ने जिस तरह मुश्किल समय में दुनिया की मदद की, उसने आज शांति और विकास में भारत की भूमिका को और मजबूत किया है। दुनिया ने भारत की विश्व बंधुत्व की भावना को भी महसूस किया है। अपनी संप्रभुता और सीमाओं की रक्षा करने के लिए भारत की ताकत और भारत के कमिटमेंट को देखा है।

पीएम मोदी ने कहा, 'अभी, कुछ दिन पहले, देश के पूर्वी छोर पर साइक्लोन अम्फान आया, तो पश्चिमी छोर पर साइक्लोन निसर्ग  आया। कितने ही राज्यों में हमारे किसान भाई–बहन टिड्डी दल के हमले से परेशान हैं और कुछ नहीं, तो देश के कई हिस्सों में छोटे-छोटे भूकंप रुकने का ही नाम नहीं ले रहे। इन सबके बीच, हमारे कुछ पड़ोसियों द्वारा जो हो रहा है, देश उन चुनौतियों से भी निपट रहा है। वाकई, एक-साथ इनती आपदाएं, इस स्तर की आपदाएं, बहुत कम ही देखने-सुनने को मिलती हैं।' पीएम मोदी ने कहा कि भारत में जहां एक तरफ बड़े-बड़े संकट आते गए, वहीं सभी बाधाओं को दूर करते हुए अनेकों-अनेक सृजन भी हुए हैं।

पीएम मोदी का यह कार्यक्रम हर महीने के अंतिम रविवार को सुबह 11 बजे प्रसारित होता है। पीएम मोदी बीते कई वर्षों से हर महीने मन की बात कार्यक्रम के जरिए अपनी बात रखते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी का यह 66वां मन की बात कार्यक्रम है। माना जा रहा है कि इस कार्यक्रम में पीएम मोदी देश में कोरोना वायरस के मामलों को लेकर बात कर सकते हैं। बीते कुछ एपिसोड्स में पीएम मोदी कोविड-19 पर बात कर भी चुके हैं।

पीएम मोदी ने पिछली 'मन की बात' में टिड्डियों के हमलों, बंगाल और ओडिशा में आए सुपर साइक्लोन अम्फान, कोरोना वायरस समेत कई मुद्दों पर बात की थी। उन्होंने टिड्डियों पर हमले के बारे में जिक्र करते हुए कहा था कि एक छोटा सा जीव कितना बड़ा नुकसान करता है। वहीं, बीते दिनों आए सुपर साइक्लोन अम्फान के बारे में कहा कि पूरा देश वहां के लोगों के साथ खड़ा हुआ है।

'कोरोना का कोई इलाज नहीं'

पिछले मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा था कि कोरोना एक ऐसी आपदा है जिसका पूरी दुनिया के पास कोई इलाज ही नहीं है। जिसका कोई पहले का अनुभव ही नहीं है तो ऐसे में नई-नई चुनौतियां और उसके कारण परेशानियां हम अनुभव भी कर रहें हैं। PLC.

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment