Friday, November 22nd, 2019
Close X

भाभी को बनाना चाहता था पत्नी, मुंबई में रखा कैद

शबानाहेमंत पटेल,
आई एन वी सी , भोपाल,
23 जून, 2011 को फिरोज खान उर्फ राजू की जिला कोर्ट, भोपाल में गोली मारके हत्या कर दी थी। बेबा हुई उसकी पत्नी शबाना (परिवर्तित नाम) को अकेले देख देवर शाहनवाज उर्फ सोनू की नियत खराब हो गई। सोनू शबाना का देहिक शोषण करने लगा। इतना ही नहीं वह शबाना को पत्नी बनाने पर अमादा हो गया। बात नहीं बनी तो ससुराल पक्ष के लोग उसे मुंबई ले गए। जिला प्रशासन से सर्च वारंट जारी होने पर पुलिस शबाना को उनकी कैद से छुड़ा लाई। इतनी प्रताडऩा छेलने के बाद पूरी तरह टूट चुकी शबाना को सोनू फोन पर धमकी दे रहा है। 'तूने शादी नहीं की तो जान से मार दूंगाÓ शबाना ने बताया, देवर को पुलिस और कानून का जरा भी खौफ नहीं है। सास-ससुर भी उसी का साथ देते हैं। पंचवटी कॉलोनी, एयरपोर्ट रोड निवासी शबाना का कहना है, पति की मौत के बाद मुझे तरह-तरह यातनाएं दी गईं। देवर की मनमानी के खिलाफ आवाज उठाने पर ससुर बीडिय़ों से उसे दाग देता, तो सास चिल्लाने पर कमरे में बंद कर देती। कइयों बार सोनू ने बलात्कार किया। -मां-बाप ने दिया था आवेदन बेटी शबाना को प्रताडि़त किए जाने की खबर जब अम्मी सईदा और अब्बू मजीद खान ने कोहेफिजा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई, लेकिन कुछ हांसिल नहीं हुआ। अब तक वह मुंबई पहुंच गए थे। इसके बाद सईदा और अब्बू मजीद खान ने एसडीएम चंद्रमोहन मिश्रा को आवेदन दिया। यहां से सर्च वारंट जारी होने के बाद कोहेफिजा पुलिस शबाना मुंबई ढूंढकर लाई। कोहेफिजा पुलिस ने मुंबई पुलिस की मदद ली और मुंबई के भिंवडी इलाके के शांतानगर में छापा मारा। यहां से रिवाल्वर और कारतूस के साथ ढेरों आपत्तितनक सामान बरामद हुए। इस पर मुंबई पुलिस ने शबाना के ससुर गफ्फार और देवर सोनू को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। कोहेफिजा पुलिस शबाना को उसके ढाई साल के बेटे के साथ भोपाल लेकर आ गई। एसडीएम कोर्ट में गवाही के बाद शबाना को उसे मां-बाप को सौंप दिया। -जमानत पर छूटते ही दी धमकी इतना सब हो चुका था। इसके बाद जमानत पर छूटने के बाद देवर सोनू भोपाल आ गया है। अब वह दिन रात मोबाइल पर शबाना को भद्दी गालियां देता और धमकी देता है कि उसकी बीबी नहीं बनी तो गोली से उड़ा देगा। शबाना और उसके पिता के मोबाइल पर वह अब भी धमकियां दे रहा है। शबाना ने बताया, कुछ नकाब पोश बदमाश जब वह घर से खरीदारी के लिए निकलती है तो उसका पीछा करते हैं। वह अब भी डरी सहमी है। -बदला लेने की थी पति की हत्या शबाना के पति को भोपाल जिला अदालन में पेशी के दौरान गोलियां दाग मार दिया था। शबाना का पति फिरोज खान उर्फ राजू हिस्ट्रीशीटर बदमाश था। राजू ने बाणगंगा झुग्गी बस्ती में बलवंत सिंह के घर डाका डाला था। इसी दौरान एक विवाहिता से बलात्कार किया। मामला दर्ज हुआ, पीडि़ता के पति ने पेशी के दौरान विनोद ने 23 जून, 2011 को बदला लेने राजू पर गोली दाग दी। जरायमपेशा है सुसराल पक्ष शबाना ने बताया, सुसराल पक्ष का पुलिस में अच्छा खासा रिकार्ड है। गफ्फारखान और उसका पूरा परिवार जरायमपेशा है। अकेले राजधानी में दर्जनभर थानों में अलग-अलग मामले दर्ज हैं। इनका काम जेब काटना, लूटना और सेंधमारी है। सास सरवरी बी भी लूट करती है। वह कई महिलाओं को चाकू मार कर घायल कर चुकी है। जब राजू की हत्या हुई तो पूरा परिवार शबाना को जबरन साथ लेकर मुंबई चला गया। जब से हफ्तेभर के लिए भोपाल आते हैं और जेबें काटते हैं और फिर मुंबई भाग जाते हैं। कुछ दिनों बाद देवर सोनू ने शबाना बलात्कार करना शुरू कर दिया। इसमें ससुर और ससा ने भी देवर की मदद की। ससूर ने बीड़ी से कई बार शरीर को दागा। इसके दर्जनों निशान उसके हाथों पर हैं। सास खाना नहीं देती और कमरे में तालाबंद रखती थी। उसके ढ़ाई साल के बेटे को छुड़ाकर रात को घर के बाहर खड़ा कर देते थे। एक रात नरगिस को मौका मिला और उसने सास की तकिए के नीचे रखे मोबाइल से भोपाल अम्मी को फोन लगा आप बीती सुनाई। शबाना इसके बाद पुलिस सर्च वारंट लेकर मुंबई उसे ढूंढने पहुंची। खौफ जदा पूरा परिवार शबाना का अब देवर सोनू और उसका बहनोई सलमान मुंह पर कपड़ा बांधकर नरगिस का पीछा करते हैं। सोनू हर दिन मोबाइल पर जान से मारने की धमकी दे रहा है। वह कहता है, बीबी बन जा नहीं तो पूरे परिवार को गोली माद दूंगा। मेरा काम तो जेल के चक्कर लगाना है। सोनू का अच्छा खासा आपराधिक रिकॉर्ड है, जिसके चलते शबाना के परिजन खौफ जदा हैं। अब शबाना घर से अकेले नहीं निकलती। शबाना ने इस संबंध में एक आवेदन कलेक्टर निकुंज कुमार श्रीवास्तव और एसएसपी को दिया है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment