राजेन्द्र चौधरीआई एन वी सी न्यूज़

लखनऊ ,
समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने आज यहां कहा है कि उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी सरकार ने विकास के एजेण्डा को जो नई गति दी है उससे विपक्षी बुरी तरह हताश और निराश हैं। उनके पास आलोचना के जब कोई मुद्दे नहीं रह जाते हैं तो वे अफवाहबाजी पर उतर आते हैं। अनर्गल बयान देकर जनता में भ्रम फैलाने की कोशिश करते हैं। भाजपा और उसका मातृ संगठन आरएसएस अफवाहे फैलाने के माहिर हैं। लेकिन उनकी हर चाल जनता खूब समझती है।
भाजपा को जब कोई विषय नहीं मिला तो वह भ्रष्टाचार के झूठे आरोप लगाने के साथ बसपा पर समाजवादी पार्टी की कृपा की कल्पित कथा भी सुनाने लगी है। एक और दल तो बसपा अध्यक्ष की उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाओं मांग को खुद भी तोते की तरह रटने में लग गया है। इन सबको न तो तथ्यों से कोई मतलब है और नहीं उन्हें सार्वजनिक मर्यादाओं की फिक्र है। समाजवादी सरकार में प्रदेश में कानून का राज है और शांति व्यवस्था कायम है।

सच तो यह है कि उत्तर प्रदेश में कन्या विद्याधन, लैपटाप वितरण और समाजवादी पेंशन जैसी महत्वाकांक्षी योजनाएं प्रचलन में हैं किन्तु कहीं और कभी भी उनमें अनियमितताओं के होने की खबरें नहीं आई। विधान मण्डल की बैठको में भी कभी सरकार के विरूद्ध भ्रष्टाचार के आरोप किसी दल की ओर से नहीं लगे। मुख्यमंत्री की बेदाग छवि और उनकी शालीनता की प्रशंसा निर्विवाद रूप से सभी विपक्षी करते हैं।

भाजपा जब से लोकसभा चुनाव जीती है उसके नेताओं में अहंकार बहुत बढ़ गया है। प्रदेश में हो रहे विकास में रोड़ा अटकाने के लिए वे सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने की साजिशें करते रहे हैं। लेकिन प्रदेश में समाजवादी सरकार के रहते उन्हें कभी सफलता मिलनेवाली नहीं है। अभी फरेन्दा और चरखारी के विधान सभा उपचुनावो में भाजपा को जनता ने करारा सबक सिखाया है। जनता के  निर्णय को सिर माथे रखकर भाजपा और दूसरे विपक्षी दलों को प्रदेश सरकार पर झूठे, निराधार और अनर्गल आरोप लगने से संकोच करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here