Close X
Wednesday, December 2nd, 2020

भाजपा और मोदी से कुछ लेना देना नहीं : भूपेन्द्र सिंह हुड्डा

bhupender singh hoodaसंजय राय , आई एन वी सी , अम्बाला , हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी में गुजरात के मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री का उम्मीदवार घोषित करने को लेकर चल रही गुटबाजी से उन्हें पार्टी के अंदरूनी मामलों से कोई लेना-देना नही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी देश का नेतृत्व करने में पूरी तरह सक्षम हैं तथा उनके नेतृत्व को देश के युवाओं का भरपूर समर्थन मिल रहा है तथा कांग्रेस जो देश में सबसे सशक्त राजनैतिक पार्टी है, श्री राहुल गांधी के  नेतृत्व में और अधिक मजबूत हुई है। मुख्यमंत्री आज अम्बाला शहर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। एक प्रश्न के उत्तर में श्री हुड्डा ने कहा कि पूरे प्रदेश का विकास बिना किसी भेदभाव के एकसमान रूप से किया जा रहा है और किसी भी क्षेत्र की अनदेखी नहीं की जा रही। किसी क्षेत्र विशेष से विकास के मामले में भेदभाव के आरोप निराधार और राजनीति से प्रेरित हैं जबकि प्रदेश के सभी क्षेत्रों में विकास कार्य युद्ध स्तर पर जारी हैं। केन्द्रीय मंत्री कुमारी सैलजा के भाजपा नेता कैप्टन अभिमन्यु से मिलने पर उन्होंने कहा कि समाजिक तौर पर कोई भी व्यक्ति किसी से भी मिल सकता है। इसमें कुछ भी आपत्तिजनक नही है। प्रदेश में स्वाईन फ्लू के मामले पाए जाने पर उन्होंने कहा कि सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को इस बीमारी से निपटने के लिए सभी प्रबन्ध करने के निर्देश दिए हैं और विभाग स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह सतर्क है।  हजकां-भाजपा गठबंधन के बारे में भाजपा नेताओं द्वारा की जा रही परस्पर विरोधी ब्यानबाजी के सम्बन्ध में एक प्रश्न का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वे केवल प्रदेश के विकास पर ध्यान देते हैं और विपक्ष या उनके गठबंधन क्या कर रहे हैं, इससे उनका कोई वास्ता नही है और न ही ऐसे विषयों पर सोचने के लिए उनके पास समय है।अम्बाला में भी आईएमटी गठन के सम्बंध में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए प्रक्रिया आरम्भ की गई थी लेकिन कुछ नेताओं के विरोध के कारण यह परियोजना सिरे नही चढ़ पाई। उन्होंने कहा कि युवाओं के लिए रोजगार और कृषि क्षेत्र में निर्भरता कम करने के लिए औद्योगिक विकास जरूरी है। विपक्ष के नेता ओम प्रकाश चौटाला व उनके बेटे अजय चौटाला को सजा मिलने के मामले में इनेलो द्वारा कांग्रेस पर किए जा रहे दोषारोपण पर पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि उन्हें राजनैतिक द्वेष भावना से ऐसा करना होता, तो वे 8 वर्ष पहले ऐसा कर चुके होते। उन्होंने कहा कि इन नेताओं को कोर्ट ने सजा दी है और यह मामला एनडीए के कार्यकाल में उस समय दर्ज हुआ था, जब हरियाणा में ओम प्रकाश चौटाला स्वंय मुख्यमंत्री थे। जेबीटी अध्यापकों के बारे में सरकार के निर्णय पर एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि यह मामला कोर्ट में है और कोर्ट ही इस बारे में कोई अंतिम निर्णय लेगा।  हजकां से कांग्रेस में शामिल हुए पांच विधायकों के सम्बन्ध में विधानसभा अध्यक्ष द्वारा दिए गए फैसले के बारे में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि फैसला कानून के मुताबिक लिया गया है। हजकां सुप्रीमों कुलदीप बिश्नोई द्वारा विधानसभा अध्यक्ष के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती देने के बारे में उन्होंने कहा कि न्यायालय में याचिका दायर करना प्रत्येक व्यक्ति का सवैंधानिक अधिकार है और कोर्ट जो भी फैसला सुनाए, वह सभी के लिए सर्वमान्य होगा।प्रदेश में नगर निगम के चुनाव पार्टी चिन्ह पर लड़ने के फैसले के बारे में उन्होंने कहा कि समय आने पर इसका फैसला पार्टी स्तर पर लिया जाएगा और इसके बारे में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ही पार्टी से चर्चा के बाद ही कोई फैसला लेंगे। उन्होंने कहा कि रिवाड़ी में स्थानीय निकाय के चुनावों में कांग्रेस ने भारी बहुमत से जीत दर्ज की थी और भविष्य में भी निगम के सभी चुनावों में कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी भारी मतों से जितेंगे। उन्होंने निगम चुनावों के बारे में कहा कि वार्डबंदी और मतदाता सूचियों के संशोधन का कार्य चल रहा है और इसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा।  इस अवसर पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष फूलचंद मुलाना, मुख्यमंत्री के प्रधान विशेष कार्यकारी अधिकारी एम.एस. चोपड़ा, कांग्रेस प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य वरूण चौधरी, मुख्यमंत्री के पूर्व मीडिया कोआर्डिनेटर दलीप चावला बिट्टू, अम्बाला के कांग्रेस प्रवक्ता अरूण गर्ग  व अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment