रेवाड़ी-कोसली विधानासभा क्षेत्र में मजबूत पकड़ रखने वाले पूर्व मंत्री जगदीश यादव आज औपचारिक रूप से बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करेंगे. जगदीश यादव 1996 में बंसीलाल सरकार में पहली बार विधानसभा में जीत हासिल करके मंत्री बने थे, जिसके बाद इनेलो की टिकट पर कोसली हल्के से विधानसभा चुनाव लड़ते आ रहे थे. लेकिन कड़ी टक्कर देकर पहले कांग्रेस के उम्मीदवार से हारे और फिर 2014 में बीजेपी उम्मीदवार को टक्कर देकर हार का सामना करना पड़ा.

रामपुरा हाउस के धुरविरोधी हैं जगदीश

दक्षिण हरियाणा की राजनीति में रामपुरा हाउस का पूरा दखल रहा है. लेकिन जगदीश यादव एंटी रामपुरा हाउस की राजनीति करते आये है. जिन कांग्रेस और बीजेपी उम्मीदवार से जगदीश यादव को हार का सामना करना पड़ा वो रामपुरा हाउस नेता व केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत के समर्थन से विधानसभा में पहुंचे थे. लेकिन अब राव इंद्रजीत भी बीजेपी में है तो जगदीश यादव भी बीजेपी में शामिल हो रहे है. माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री अपनी ताकत बढ़ाने के लिए जगदीश यादव के साथ-साथ कई अन्य नेताओं को बीजेपी में शामिल करा रहे हैं.

लोकसभा चुनाव में बीजेपी का किया था समर्थन

जगदीश यादव औपचारिक तौर पर तो अब बीजेपी में शामिल हो रहे है लेकिन उन्होंने लोकसभा चुनाव से पहले इसकी तैयारी शुरु कर दी थी. लोकसभा चुनाव में जगदीश यादव ने खुले तौर पर रोहतक से बीजेपी उम्मीदवार डॉ अरविंद शर्मा की मदद की थी जो कोसली हल्के से बड़ी लीड लेकर जीते थे. PLC.