Thursday, July 9th, 2020

बीजेपी ने मजदूरों की चिंता नहीं की

लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने न्यूज18 के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में उनकी पार्टी बसपा (BSP) और कांग्रेस (Congress) जैसे किसी भी बड़े दल से गठबंधन नहीं करेगी. साथ ही उन्होंने चाचा शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Yadav) की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के साथ गठबंधन पर खुलकर कुछ नहीं कहा, लेकिन साफ़ किया है कि समाजवादी पार्टी उनके खिलाफ प्रत्याशी नहीं उतारेगी.

अखिलेश यादव ने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी किसी भी बड़े दल जैसे बसपा और कांग्रेस से गठबंधन नहीं करेगी. छोटे दलों से बातचीत चल रही उनके साथ चुनाव लड़ा जाएगा. चाचा शिवपाल की पार्टी में वापसी और गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि फिलहाल पार्टी उनके खिलाफ चुनाव में प्रत्याशी नहीं उतारेगी. बता दें कुछ दिन पहले ही अखिलेश यादव के निर्देश पर नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने शिवपाल यादव की सदस्यता रद्द करने वाली याचिका वापस ले ली थी.

लॉकडाउन फेल या पास, लेकिन कोरोना बीमारी गई नहीं

उधर लॉकडाउन के फैसले के गलत या सही के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि ठीक या गलत नहीं कह सकते, लेकिन कोरोना बीमारी ख़त्म नहीं हुई. बीजेपी ने मजदूरों की चिंता नहीं की. समाजवादी पार्टी के लोगों ने मजदूरों की मदद की. जिस रास्ते पर कांग्रेस चल रही थी अब उसी पर बीजेपी चल रही है. बीजेपी जो रास्ता अपना रही है वह कांग्रेस का है. क्या खेती को निजी हाथों में देकर कोई फायदा होगा? किसान खुशहाल होगा. गन्ने की कीमत नहीं मिल रहा. बकाया भुगतान नहीं हो रहा. फसल की डेढ़ गुनी कीमत देने के वादा क्या हुआ. सब कुछ बर्बाद हो गया. अखिलेश यादव ने कहा कि आर्थिक मदद का कोई लाभ नहीं मिला. समाजवादी पार्टी का मानना  है की जिस तरह कारखानों और उद्योगों का समर्थन कांग्रेस करती आई है वैसा ही अब बीजेपी कर रही है.PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment