Saturday, August 8th, 2020

बिजली गिरने से 12 की मौत, दर्जनों झुलसे

बिहार में शनिवार को आकाशीय बिजली (वज्रपात) गिरने से अलग अलग जिलों में 12 लोगों की मौत हो गई। अभी तक जो जानकारी मिली है उसके अनुसार सारण में पांच, भोजपुर में 6 और औरंगाबाद में एक की मौत वज्रपात गिरने से हुई है। इसके अलावा दर्जनों लोग आकाशीय बिजली गिरने से झुलस गए हैं।

सारण जिले में मिली जानकारी के अनुसार मढ़ौरा के नरहरपुर और नथुआ में शनिवार को खेत मे काम करने के दौरान आकाशीय बिजली की चपेट में आने से एक महिला व एक पुरूष सहित कुल दो लोगों की मौत हो गई। नथुआ निवासी अमेरिका सिंह के बेटे करीब 35 वर्षीय चन्दन सिंह अपने घर के पास खेत मे काम कर रहे थे। इस बीच तेज गरज के साथ आकाशीय बिजली गिरी, जिसके चपेट में वे आ गए और घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यह सबकुछ अचानक और इतनी तेजी से हुआ कि चन्दन को सम्भलने व भागने का मौका भी नही मिल सका। घटना की सूचना मिलते ही मढ़ौरा सीओ ओमप्रकाश गौरा ओपी पुलिस के साथ वहां पहुचे और जरूरी प्रक्रिया पूरी कर चन्दन के शव को पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया।

उधर मढ़ौरा के नरहरपुर में भी खेत से लौट रही मुंसी राम की पत्नी करीब 50 वर्षीय महिला सोना देवी की आकाशीय बिजली की चपेट में आने के कारण मौत हो गई। परिजनों के अनुसार उक्त महिला शनिवार को सुबह ही पास के खेत मे काम करने गई थी इसी जब अचानक बारिश शुरू हुई और बदल गरजने लगे तो वे खतरे को भांपते हुए खेत से वापस घर लौटने लगी। इसी दौरान वे जोर की गरज के साथ जमीन पर गिरे ठनका की चपेट में आ गई, जिससे उनकी मौत हो गई। घटना के बाद मढ़ौरा सीओ ने वहां पहुचकर जरूरी कागजी प्रक्रिया पूरी की और इनके शव को भी पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया। उधर,रिविलगंज, भेल्दी व तरैया में भी वज्रपात से मौत हुई है। plc.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment