Sunday, February 23rd, 2020

बिजली कंपनी ने रखा 500 करोड़ का कदम

500 karod ka kadamइंद्रा राय,, आई एन वी सी,, हरियाणा,, हरियाणा में सम्पूर्ण बिजली आपूर्ति प्रणाली के रख-रखाव, नवीनीकरण और सशक्तीकरण के लिए 500 करोड़ रूपये की लागत के कार्यक्रम की शुरूआत कर बिजली वितरण निगमों ने पहल करके आगे कदम बढ़ाए हैं, उपभोक्ता भी सभी घरों में कनैक्शन लेकर व चोरी रोककर सहयोग करे फिर प्रत्येक गांव में शहरी पद्यति पर रोजाना कम से कम 20 घंटे बिजली आपूर्ति करने में कोई बाधा नहीं रहेगी। यह बात दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम व उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के अध्यक्ष तथा प्रबन्ध निदेशक देवेन्द्र सिंह ने आज हिसार के समीपवर्ती गांव बगला में बिजली वितरण प्रणाली के नवीनीकरण व सुदृढ़ीकरण अभियान की शुरूआत करने के उपरांत ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कही। देवेन्द्र सिंह ने कहा कि बिजली वितरण निगमों का प्रयास है कि प्रत्येक गांव को शहरी पद्यति पर 20 घंटे या इससे ज्यादा बिजली की आपूर्ति हो। इसके लिए एक आदर्श योजना तैयार की है। इस योजना के तहत जिस फीडर पर समग्र तकनीकी व वाणिज्यिक घाटा 25 प्रतिशत से नीचे आ जाएगा उस फीडर से जुड़े गांवों को शहरी पद्यति पर 20 घंटे बिजली की आपूर्ति की जाएगी। ग्रामीण बिजली आपूर्ति में हो रहे घाटे को तीन चरणों में कम कर सकते हैं। घाटे में कमी के प्रत्येक चरण की प्राप्ति पर बिजली आपूर्ति के समय में तीन घंटे की बढ़ोतरी कर दी जाएगी। उदाहरणतयः यदि किसी फीडर पर 55 प्रतिशत ए.टी.एण्ड सी. घाटा है तो 10 प्रतिशत की कमी लाने पर बिजली आपूर्ति के वर्तमान 11 घंटे से बढ़ाकर 14 घंटे कर दिए जाएंगे। घाटे के स्तर में और 10 प्रतिशत की कमी आने पर बिजली आपूर्ति रोजाना 17 घंटे तथा घाटे का स्तर 25 प्रतिशत से कम आने पर शहरी पद्यति पर रोजाना 20 घंटे बिजली आपूर्ति कर दी जाएगी। इसके साथ-साथ गांव के सभी घरों में कनैक्शन होना आवश्यक है तथा मीटरों को घरों से बाहर निकालना होगा। उन्होंने कहा कि बिजली वितरण की मौजूदा प्रणाली का नवीनीकरण और सशक्तीकरण इस स्कीम को अपनाने वाले ग्रामीणों के लिए विशेष सहयोग का काम करेगा क्योंकि प्रणाली का रख-रखाव होने से तकनीकी घाटे में काफी कमी आएगी। उन्होंने कहा कि जो गांव इस योजना के तहत आगे आते हैं उन गांवों में बिजली आपूर्ति प्रणाली को और ज्यादा व्यवस्थित करते हुए आधुनिक टैक्नोलॉजी की व सुरक्षित बना दिया जाएगा। इस तकनीकी की बिजली आपूर्ति प्रणाली में गांव के बाहर व चौराहों पर बॉक्स लगाकर मीटरों की स्थापना की जाएगी। गांवों की भीतर पूरी निम्न दबाव प्रणाली में रबड़ युक्त तार लगाए जाएंगे। बिजली आपूर्ति की इस आधुनिक प्रणाली में रूचि लाते हुए पूर्व विधायक श्री कुलबीर सिंह बैनीवाल ने चूली बागडियां फीडर पर चार गांवों में सभी शर्ते पूरी करवाने की पेशकश की। इस पर सहमत होते हुए देवेन्द्र सिंह ने इन गांवों में घाटा 25 प्रतिशत से कम आने, सभी घरों में मीटर होने व मीटर बाहर लगवाने पर इस आधुनिक प्रणाली की स्थापना का आश्वासन दिया। इस प्रणाली की स्थापना पर प्रत्येक गांव में 50 लाख रूपये तक के खर्च का अनुमान है। बैनीवाल ने कहा कि प्रदेश में बिजली की कोई कमी नहीं है यदि चोरी रोकी जाए और सभी घरों में कनैक्शन हो तो गांव व शहर में प्रत्येक उपभोक्ता को 24 घंटे बिजली आपूर्ति में किसी प्रकार का व्यवधान नहीं रहेगा। उन्होंने आश्वासन दिया कि बिजली निगमों के इस अभियान में जनप्रतिनिधि पूरा सहयोग करेंगे। इस अवसर पर दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के निदेशक श्री विजय कुमार चौधरी ने भी ग्रामीणों को सम्बोधित किया और बिजली वितरण निगमों की विभिन्न जनकल्याण की योजनाओं की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इस अवसर पर निगम के मुख्य महाप्रबन्धक श्री एस.के.जिंदल तथा महाप्रबन्धक श्री आर.पी.रिलेटिया और बिजली निगम के अनेक अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment