नई ‎दिल्ली । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि बाबरी मस्जिद विध्वंस को रोका जा सकता था लेकिन उनकी पार्टी की सरकार की नाकामी की वजह से ऐसा नहीं हो सका। दिग्विजय ने कहा कि हालांकि उन्हें अंदर की बात पता नहीं है लेकिन उन्हें बाद में पता चला कि तत्कालीन प्रधानमंत्री पी वी नरसिंह राव उच्चतम न्यायालय में पेश विहिप के शपथ हलफनामों पर विश्वास कर बैठे। सिंह ने कहा ‎कि तथ्य है हमारी नाकामी और मैं व्यक्तिगत तौर पर इसके लिए दोषी महसूस करता हूं। 

 

अगर कांग्रेस पार्टी ने ऐहतियाती कदम उठाए होते और सेना तथा केन्द्रीय बलों को स्थान की रक्षा करने दी होती तो वह बाबरी मस्जिद विध्वंस रोक सकती थी। कांग्रेस नेता ने बताया कि वह उस वक्त भोपाल में थे। सिंह ने इस दौरान इस पर भी स्पष्टीकरण दिया कि इस घटना के तत्काल बाद राव कैबिनेट के कद्दावर मंत्री अर्जुन सिंह ने अपने पद से इस्तीफा क्यों नहीं दिया था। उन्होंने कहा ‎कि मैंने अर्जुन सिंह से बात की थी। वह विध्वंस के अगले दिन इस्तीफा देना चाहते थे लेकिन दोपहर में उन्होंने संभवत: सोचा कि उन्हें प्रधानमंत्री के साथ खड़ा होना चाहिए। PLC.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here