Monday, May 25th, 2020

बहू का अपने सास ससुर की जायदाद पर कोई हक़ नहीं है, उनकी मर्ज़ी के बगैर घर में नहीं रह सकती है।

images (8)आई एन वी सी,

दिल्ली,

किसी भी महिला का अपने पति की संपत्ति पर तो अधिकार होता है, लेकिन वह अपने सास-ससुर की संपत्ति पर दावा नहीं कर सकती है।यह बात दिल्ली की एक अदालत ने एक महिला की अपील को खारिज करते हुए कही जो यहां के एक सरकारी अस्पताल में डॉक्टर है। उसने अपने सास-ससुर के घर में रहने का अधिकार मांगा था जिसमें उसके पति का कोई हिस्सा नहीं है। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश कामिनी लाउ ने कहा कि महिला अपने पति की संपत्ति पर अधिकार का दावा कर सकती है, लेकिन किसी भी परिस्थिती में वह अपने सास-ससुर की संपत्ति या उनकी मर्ज़ी के खिलाफ उनके घर में रहने के अधिकार का दावा नहीं कर सकती। अदालत ने महिला के बारे में कहा कि वह एक कामकाजी महिला है और खुद की गुज़र बसर करने की हालत में है। न्यायाधीश ने यह भी कहा कि पक्षों के बीच समस्याओं और विवादों को देखते हुए, महिला को सास ससुर की मर्ज़ी के बिना उनके घर में रहने की अनुमति देने से मौजूदा घरेलू समस्याएं और बढ़ेंगी तथा इन वरिष्ठ नागरिकों के लिए कई परेशानियां पैदा होंगी, जिसकी यह अदालत अनुमति नहीं देगी। अदालत ने कहा कि यदि महिला के सास ससुर उसे घर में रहने की अनुमति देते हैं, तब भी इससे उसका कोई कानूनी अधिकार नहीं हो जाता, और इसका उल्लंघन होने पर कार्रवाई भी की जा सकती है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment