Close X
Friday, October 30th, 2020

बहुत जल्द ही मध्यप्रदेश विश्व पर्यटन के मानचित्र पर लाया जायेगा - शिवराजसिंह चौहान

आई.एन.वी.सी,,

भोपाल,,

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि अद्भुत है मध्यप्रदेश। यहाँ पर्यटन विकास की असीम संभावनाएँ हैं, भोपाल की झील में कश्मीर के नजारे हैं। जहांगीर होते तो जरूर कहते कि दुनिया में यदि कहीं जन्नत है तो यहीं है, यहीं है, यहीं है। श्री चौहान का कहना है कि मध्यप्रदेश विश्व पर्यटन के मानचित्र पर लाया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ राजा भोज विमान तल पर देश की पहली एयर टैक्सी का लोकार्पण कर रहे थे। इस एयर टैक्सी के प्रथम नौ यात्रियों में से एक प्रदेश के स्वास्थ्य, विधि एवं विधायी मंत्री श्री नरोत्तम मिश्रा सहित पर्यटन मंत्री श्री तुकोजीराव पवार, महापौर श्रीमती कृष्णा गौर, विधायक द्वय श्री जितेन्द्र डागा तथा श्री ध्रुवनारायण सिंह, पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष डॉ. मोहन यादव मंचासीन थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में धार्मिक, प्राकृतिक, वन्य जीव-जन्तु और ऐतिहासिक पर्यटन की अकूत सम्पदा है। तीन विश्व धरोहर, खजुराहो, भीम बैठका, साँची, मध्यप्रदेश में है। यहॉं नर्मदा, क्षिप्रा, बेतवा, ताप्ती, चम्बल, पार्वती जैसी कल-कल बहती नदियाँ हैं। पचमढ़ी, अमरकंटक जैसी प्राकृतिक छटा से सराबोर स्थल भी यहाँ हैं। उज्जैन के महाकाल तथा ओंकारेश्वर के ज्योर्तिलिंग, ओरछा में राम-राजा, मैहर की शारदा और देवास की चामुंडा माता के दरबार के दर्शनों से जीवन धन्य हो जाता है। उन्होंने कहा कि कान्हा-किसली, बाँधवगढ़, पेंच राष्ट्रीय उद्यानों में तो बाघ दिखते ही हैं आज-कल तो भोपाल जैसे नगरों के आस-पास भी बाघ की दहाड़ सुनाई दे रही है। बाजबहादुर और रूपमती के अमर प्रेम के साक्षी मांडू में कौन नहीं जाना चाहेगा। जरूरत मार्केटिंग की है। दीपावली के बाद देश के प्रमुख पर्यटन केंद्रों पर सैलानियों को आकर्षित करने के भव्य कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। इनमे वे स्वयं भी जायेंगे तथा पर्यटन को आकर्षित करने वाली देश- विदेश की प्रमुख हस्तियों को आमंत्रित किया जायेगा।

श्री चौहान ने कहा कि खजुराहो को शीघ्र ही एयर टैक्सी सर्किट में लाया जायेगा। साँची में भी हवाई पट्टी बनायी जायेगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आशा व्यक्त की कि एयर टैक्सी के रूप में व्यावसायिक और पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के प्रयास रंग लाएंगे। उन्होंने कहा कि यात्रा सुरक्षित और आरामदायक होनी चाहिये। यात्रा सुविधा संपन्न और किराया उचित होगा तो खेती को लाभ का धंधा बनाने के परिणाम से प्रदेश के किसान भी हवाई जहाज की यात्रा करेंगे।

पर्यटन मंत्री श्री तुकोजीराव पंवार ने कहा कि प्रदेश के पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये राज्य की पर्यटन नीति बनाई गई है। नीति के तहत निजी ऑपरेटरों को एयर टैक्सी संचालन की अनुमति प्रदान की गई है। उन्होंने बताया कि पर्यटन विकास निगम द्वारा निजी ऑपरेटर के साथ किए गए अनुबंध में सुरक्षा के पहलुओं पर विशेष ध्यान दिया गया है।

अध्यक्ष पर्यटन विकास निगम डॉ. मोहन यादव ने बताया कि एयर टैक्सी प्रारंभ करने के ऐतिहासिक निर्णय से देश-विदेश में प्रदेश का गौरव बढ़ा है। मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है जिसमें राज्य सरकार द्वारा नागरिकों को हवाई परिवहन की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है।

वेन्चुरा कंपनी के अध्यक्ष प्रदीप अग्रवाल ने प्रदेश में पर्यटन के साथ औद्योगिक विकास के क्षेत्र में हो रहे कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि कंपनी द्वारा एयर-टैक्सी के रूप में ब्रांड-न्यू एयर-क्राफ्ट ही उपयोग में लिये जायेंगे। शीघ्र ही कंपनी 9 सीटर से बढ़ाकर 18 सीटर विमान सेवा भी शुरू करेगी। कंपनी का प्रयास यात्रियों को सर्वश्रेष्ठ सेवा, सुविधा और सुरक्षा देने का होगा। आभार प्रदर्शन पर्यटन विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री संतोष जैन ने किया।

प्रांरभ में अतिथियों का पुष्प-गुच्छ से स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रथम फ्लाइट के 9 यात्रियों स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, पर्यटन विकास निगम अध्यक्ष डॉ. मोहन यादव, वेन्चुरा कनेक्ट के अध्यक्ष श्री प्रदीप अग्रवाल, श्री नरेंद्र सोमकुंवर, श्री एम.एफ. हुसैन, श्री संदेश, श्री अंकुश खन्ना, श्री एन.एन.सोनी और विमान के पॉयलट श्री रौनक को पुष्प-गुच्छ और स्मृति-चिन्ह भेंट कर सुखद यात्रा की शुभकामनाएँ दीं।

इस अवसर पर प्रबंध संचालक पर्यटन विकास निगम श्री पंकज राग, श्री यू.के.बोस, बड़ी संख्या में नागरिक और पर्यटन विकास निगम एवं वेन्चुरा के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

अजय

Comments

CAPTCHA code

Users Comment