Saturday, February 29th, 2020

बलात्कार पिडि़त मासूम की एफ.आई.आर दर्ज करने में देरी क्यों : एंटी करपशन सोसाईटी

आई एन वी सी,आई एन वी सी,
चण्डीगढ,
  • चंडीगढ पुलिस अपराधियों के प्रति नरम: जसपाल सिंह
एंटी करप्शन सोसायटी के अध्यक्ष जसपाल सिंह ने कहा कि पुलिस बर्दी में भेडियों ने हैवानियत कर इंसानियत को शर्मसार कर दिया। गत दिनों हुए नाबालिक लडकी के साथ बलात्कार मामले ने चंडीगढ़ पुलिस की कार्यशैली को बेनकाब किया है। ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जानी चाहिए।
एंटी करप्शन सोसाईटी कोषाध्यक्ष प्रवीन शर्मा और सलाहकार रामेशवर गिरी ने कहा कि दावों के विपरित चंडीगढ़ में पुलिस के पास किसी भी जुर्म की एफ.आई.आर दर्ज कराना आसान नहीं है। यहां तक कि बलात्कार पिडि़त मासूम की एफ.आई.आर दर्ज करने के लिए भी आनाकानी की गई, मामले को रफा दफा करने का प्रयास किया गया था।
एंटी करप्शन सोसाईटी के सलाहकार रामेशवर गिरी ने कहा कि जिन अधिकारियों ने इसे अनदेखा कर दिया। ऐसे अधिकारियों को भी अपराधियों का साथ देने का दोषी माना जाए। उन्होने कहा कि दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जाए साथ ही उनकी मदद करने वाले अधिकारियों को भी अपराधियों की सूची में शामिल किया जाए।
एक बैठक दौरान एंटी करप्शन सोसाईटी के महासचिव तेजिंद्र कांकरवाल, विनोद शर्मा, सचिव डा. संजय शर्मा, लेखाकार पवन शर्मा, मुख्य सलाहकार डा. बी.आर शर्मा, सलाहकार रविकांत व्यास व मनीमाजरा शाखा कनवीनर जगगू सिंह सैनी, वार्ड नं २४ अध्यक्ष मंजूर अहमद जूलेलाल, शब्बो बेगम ने कहा कि एंटी करपशन सोसाईटी पीडि़त परिवार को पूर्ण सहयोग देने के लिए तैयार है। बैठक दौरान पीडि़त परिवार का साथ देने वाले नेता हरमोहन धवन, सौरभ जोशी और अन्य की प्रसंशा की गई, जिन के प्रयास से एफ.आई.आर दर्ज हुई और दोषी पकड़े गए। सभी ने दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग की।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment