Close X
Thursday, January 20th, 2022

बंद होंगी पानीपत थर्मल पावर स्टेशन की चार बेकार इकाईयां

khattarआई एन वी सी न्यूज़ हरियाणा, हरियाणा सरकार ने पानीपत थर्मल पावर स्टेशन की चार पुरानी  बेकार इकाइयों को सैद्धांतिक तौर पर बंद करने का निर्णय लिया है। इन इकाइयों में कार्यरत कर्मचारियों को हटाया नहीं जाएगा और इन्हें अन्य इकाइयों में समायोजित किया जाएगा। ये फैसला मुख्यमंत्री  मनोहर लाल की अध्यक्षता में बुधवार को चंडीगढ़ में  हुई  बैठक में लिया गया। मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने बुधवार को चंडीगढ़ में थर्मल पावर स्टेशन पर एक बैठक की जिस में पानीपत थर्मल पावर स्टेशन की चार पुरानी  बेकार इकाइयों को  बंद करने का निर्णय लिया गया। एक अन्य बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि फरीदाबाद थर्मल पावर स्टेशन, जिसे वर्ष 2010 में बंद कर दिया गया था, की भूमि के निपटान के लिए  341.559 एकड़ के कुल उपलब्ध क्षेत्र में से ओल्ड एश डिस्पोजल एरिया का 103.619 एकड़ और न्यू एश डिस्पोजल एरिया के 151.78 एकड़ क्षेत्र को सोलर पावर संयंत्रों की स्थापना के लिए उपयोग किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियोंं को निर्देश दिए कि थर्मल कालोनी सैक्टर 22 में 42.023 एकड़ और 27.25 एकड़ प्लांट क्षेत्र को विकसित किया जाए। मुख्यमंत्री ने  एचपीजीसीएल की खाली भूमि पर प्रदेश में सौर ऊर्जा उत्पादन बढ़ाने पर बल दिया। उन्होंने निर्देश दिए कि सरकारी भवनों की छत  के अधिकतम स्थान का उपयोग सौर ऊर्जा उत्पादन के लिए सोलर पैनलस लगाने के लिए किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सौर ऊर्जा परियोजनाओं के कार्य में तेजी लाने के लिए एक संगोष्ठी का आयोजन भी किया जाए, जिसमें प्रतिष्ठित कम्पनियों और अन्य विशेषज्ञों को आमंत्रित किया जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि पुलिसकर्मियों के लिए आवास और अन्य सुविधाओं हेतु एक पुलिस लाइन विकसित करने के लिए लगभग 50 एकड़ भूमि प्रदान करने की सम्भावनाओं की भी तलाश की जाए।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment