Close X
Tuesday, April 20th, 2021

फ्रांस के सिक्ख भाईचारे ने पहलकदमी के लिए सिरसा का किया धन्यवाद

आई एन वी सी न्यूज़ नई दिल्ली, फ्रांस में भारतीय सफारतखाने न फ्रांस में रहते सिक्ख परिवारों के बच्चों को नए के पासपोर्ट जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। यह मामला दिल्ली सिक्ख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के जनरल सचिव श्री मनजिंदर सिंह सिरसा की तरफ  से विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज के पास उठाया गया था जिस बाद में यह प्रक्रिया शुरू हुई है। इस बात की जानकारी देते फ्रांस में रहते सिक्ख भाईचारे के नेताओं इकबाल सिंह भट्टी, चीमा बेगोवाल, सुरजीत सिंह, हरिंदरपाल सिंह और दूसरे ने बताया कि इस घटनाक्रम के साथ सिक्ख भाईचारे ने बड़ी राहत महसूस की है। इन्होंने नेताओं ने फ्रांस में अरोर डान नाम का संगठन बनाया हुआ है जो मानवीय अधिकारों के साथ संबंधित मामले उठाता है और यह मामला इस की तरफ  से श्री सिरसा के पास कुछ समय पहले उठाया गया था। इन्होंने नेताओं ने बताया कि जब उन्होंने यह मामला श्री सिरसा के पास उठाया तो उन्होंने जहां यह मामला विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज के पास उठाया, वहां ही शिरोमणी अकाली दल के प्रधान स. सुखबीर सिंह बादल ने यह मामला प्रधान मंत्री दफ्तर के ध्यान में लाया जिस के नतीजे के तौर पर यह मसला हल हो सका। उन्होंने बताया कि न सिर्फ  अब सिक्ख भाईचारे के बच्चों को नए पासपोर्ट जारी हो रहे हैं बल्कि सफारतखाने ने यह भी भरोसा दिलाया है कि उन परिवारों को भी नए के पासपोर्ट जारी किए जाएंगे जिन के पास रफ्यूजी स्टेटस है और उन्होंने खिलाफ  भारत में किसी भी तरह का मुकदमा दर्ज नहीं है और वह अपनी वितीय हालत सुधारना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इस के इलावा चार अन्य अनजाने मामले जिन में व्यक्तियों ने भारत में वापस अपने परिवारों के पास लौटने की इच्छा अभिव्यक्ति है, में से भी तीन केस सफारतखाने के विचार अधीन हैं और इन को परवानगी मिलने की संभावना है। फ्रांस के नेताओं ने श्री सिरसा का धन्यवाद किया और कहा कि यह श्री सुखबीर सिंह बादल और श्री मनजिंदर सिंह सिरसा की दखलअंदाजी सदका ही संभव हो सका है।  सिरसा ने सिक्ख भाईचारे के नेताओं को भरोसा दिलाया कि स. सुखबीर सिंह बादल के नेतृत्व में शिरोमणी अकाली दल लीडरशिप भाईचारे की बेहतरी के लिए काम करने के लिए दृड है और दुनिया में किसी भी जगह पर सिक्ख भाईचारे को पेश आने वाली मुश्किलों के हल के लिए हमेशा यत्नशील रहेगी।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment