Tuesday, June 2nd, 2020

प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना से बढेंगे स्वरोजगार के अवसर : डॉ. रमन सिंह

डॉ. रमन सिंहआई एन वी सी न्यूज़ रायपुर, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज कबीरधाम जिले के मुख्यालय कवर्धा  में प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना के तहत विशाल ऋण वितरण मेले में  जिले के 2518 हितग्राहियों को 7 करोड़ 16 लाख की ऋण राशि के चेक वितरित किए। उन्होंने विशाल जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा घोषित यह योजना देश के लाखों-करोड़ों छोटे व्यापारियों के व्यवसाय की उन्नति में निश्चित रूप से सहायक होगी। इसके साथ इस योजना के माध्यम सें स्व-रोजगार के भी अवसर बढ़ेंगे। उन्होंने सभी हितग्राहियों को बधाई और  शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने लोगों को बताया कि भोरमदेव अभ्यारण में पर्यटन विकास के लिए एक करोड़ 45 लाख रूपए मंजूर किए गए हैं। डॉ. सिंह ने इस अवसर पर 73 लाख रूपए की लागत से बनने वाले वन मंडल कार्यालय भवन का शिलान्यास भी किया। कार्यक्रम में प्रदेश सरकार के वन मंत्री श्री महेश गाागड़ा, लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह, संसदीय सचिव श्री मोतीराम चन्द्रवंशी,छत्तीसगढ़ राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष डॉ. सियाराम साहू, कवर्धा विधायक श्री अशोक साहू, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री संतोष पटेल, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती देवकुमारी चन्द्रवंशी,नगर पालिका उपाध्यक्ष श्री मनोज गुप्ता, भोरमदेव शक्करकारखाना के अध्यक्ष श्री रघुराज सिंह, जिला कलेक्टर श्री धनंजय देवांगन,पुलिस अधीक्षक श्री राहूल भगत,वनमंडलाअधिकारी श्री आलोक तिवारी सहित जिले के सभी नगरीय निकाय के जनप्रतिनिधि प्रमुख रूप से उपस्थित थे। डॉ. रमन सिंह ने कवर्धा के गांधी मैदान में प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना के तहत आयोजित विकास ऋण वितरण मेले में लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस योजना के तहत प्रदेश सहित देश के सभी राज्यों में अलग अलग तिथियों में विकास ऋण वितरण मेले का आयोजन किया जा रहा है। उन्होने कहा कि यह प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना देश की एक अनूठी योजना है, इस योजना के माध्यम से देश की राजधानी दिल्ली से लेकर सुदूर वनांचल गांव तक एक साथ छोटे-बड़े सभी उद्योगों की स्थापना होगी,जिससे देश में स्वरोजगार के सुनहरे अवसर का सृजन होगा। उन्होने कहा कि देश के गांव-गांव में छोटे उद्यमियों ने हजारों की संख्या में व्यासाय स्थापित किए है उन सभी छोटे उद्योगो के विस्तार करने की जरूरत है। उन्होने कहा कि देश की राजधानी दिल्ली से गांव तक तीन लाख छोटे उ़द्यमी संचालित हो रहे है, इस सभी छोटे उद्यमी से पूरा परिवार आश्रित रहता है और इस छोटे उद्यमियों से औसतन तीन से चार लोगों का रोजगार मिलता है। उन्होने कि देश में स्थापित छोटे बड़े उद्यमियों को इस प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना से आर्थिक ऋण उपलब्ध कराने से उद्यमियों का विकास और विस्तार होगा और इस उद्य़ोगों से स्वरोजगार के सुनहरे अवसर का सृजन भी होगा, इससे देश की अर्थव्यवस्था को उछाल लगाने में मदद मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना के तहत सभी के सपने साकार होंगे। इसके तहत नया व्यवसाय प्रारंभ करने वाले को शिशु श्रेणी के तहत 50 हजार रूपए का ऋण स्वीकृत किया जाएगा। किशोर श्रेणी में 50 हजार से 5 लाख रूपए तक और तरूण श्रेणी में 5 से दस लाख रूपए का ऋण स्वीकृत किए जाएंगे। इस योजना की मुख्य विशेषतायें सूक्ष्म एवं लघु ईकाईयों को संस्थागत वित्त उपलब्ध कराने तथा कोई गारंटी प्रतिभूति आवश्यकता नहीं है। कार्यशील पूंजी ऋण मुद्रा कार्ड के माध्यम से प्रदान की जायेगी। शिशु ऋण योजना के तहत 50 हजार तक के ऋण फल एवं सब्जी विक्रेता, चाय विक्रेता, पापड़-आचार बनाने, जैम,जैली तैयार करने, ग्रामीण स्तर पर मशरूम उत्पादन, मछली विक्रेता, लघु सेवा खाद्य, स्टाल, पान ठेला, सैलून, दर्जी, बढ़ई, फूल विक्रेता, झाडू-टोकना विक्रेता, बिजली रिपेयरिंग, साईकिल एवं मोटर साईकिल रिपयेरिंग, मूर्तिकार, शिल्पकार इत्यादि को इसके तहत ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। किशोर एवं तरूण योजना के तहत 50 हजार से 5 लाख रूपये तक एवं 5 लाख रूपये से 10 लाख रूपये का ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह ने सभा को संबांधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक ऋण शिविर में 2518 हितग्राहियों को 7 करोड़ 16 लाख रूपए का ऋण वितरण किया जा रहा  है, जो उनके उद्यम विकास एवं विस्तार में योगदान करेगा। उन्होने कहा कि भारत युवाओं का देश है इस लिए यहां कि युवा शक्ति का सकारात्मक दिशा में इस प्रकार नियोजन किया जाए इसी सोंच के साथ यह योजना विशेष रूप से प्रारंभ की गई है। उन्होने कहा कि भारत के युवाओ की एक बहुत बड़ी संख्या संयुक्त राज्य अमेरिका जैसे देश में पहुंच कर वहां के आईटी क्षेत्र में लगभग एक चौथाई रोजगार पर उनका कब्जा है। युवाओं की स्थिति को बेहतर ढंग से नियोजन को ध्यान में रखते हुए देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने इस योजना को लागू किया है।उन्होने यह भी कहा कि देश का एक ऐसा वर्ग जो सबसे अधिक रोजगार देता है उसे पहले बैंकों से ऋण प्राप्त करने में कठिनाइयां होती थी, लेकिन अब यह कठिनाइयां दूर हो जाएगी।छोटी-छोटी इकाइयां बिना गांरटी के ऋण प्राप्त कर स्वयं का उद्योग विस्तार करने के साथ अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करेंगे। उन्होने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि जिले राज्य एवं देश के उद्यमी एवं रोजगार स्थापित करने के इच्छुक युवाओं को आगे आने का अवसर प्रदान करेगा। संसदीय सचिव श्री मोतीराम चन्द्रंवशी ने कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना उद्यमियों को वित्त सुरक्षा प्रदान करने वाली योजना है। धनाभाव में जो युवा वर्ग स्वरोजगार स्थापित नहीं कर पाते थे,उन्हे अब बड़े आसानी से ऋण प्राप्त होगा और उनके हाथों में रोजगार होगा। उन्होने कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना,जीवन ज्योति बीमा योजना, जनधन योजना, स्वच्छ भारत अभियान जैसे कार्य प्रारंभ किया है उससे भारत का नाम विश्व में उंचा हुआ है। इस मुद्रा योजना से देश के उद्यमियों को रोजगार प्राप्त होगा। उन्होने यह भी कहा कि राज्य में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के मार्गदर्शन में राज्य के युवाओं को उनकी इच्छा अनुसार स्वरोजगार स्थापित करने के उद्देश्य से कौशल विकास उन्नयन के तहत प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलब्ध कराने में मदद किया जा रहा है। कार्यक्रम में कवर्धा विधायक श्री अशोक साहू ने कहा कि आज का दिन युवाओं के लिए स्वर्णीम एवं हर्ष का दिन है और उनके सपने को साकार करने का दिवस है। यहां के युवाओं को राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनाओं के माध्यम से लभान्वित किया जा रहा है। उन्होने शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं और हितग्राही मूलक योजनाओं के तहत कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी दी।उन्होने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना युवाओं को रोजगार उपलबध कराने की गांरटी प्रदान करता है।जिला कलेक्टर श्री धनंजय देवांगन ने अतिथियों का स्वागत किया और इस मेगा शिविर एवं योजना पर विस्तार से जानकारी देते हुए प्रशासकीय प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। मंच संचालन श्री अवधेश नंदन श्रीवास्तव एवं आभार प्रदर्शन बोडला एसडीएम श्री अश्वनी देवांगन ने किया।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment