Monday, October 14th, 2019
Close X

प्रधानमंत्री ने कोसी बाढ़ से निपटने के लिए पूरी केंद्रीय सहायता के दिए निर्देश - कैबिनेट सचिव की तैयारी पूरी

Cabinet Secretary Shri Ajit Sethआई एन वी सी , काठमांडू /दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में कोसी बाढ़ की स्थिति पर चिंता प्रकट की है तथा निर्देश दिए हैं कि सभी संभव सहायता उपलब्ध कराई जानी चाहिए। कैबिनेट सचिव अजित सेठ ने कल दोपहर से राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति की तीन आपात बैठकों की अध्यक्षता की। दो बैठकें कल आयोजित की गई। एक बैठक आज सुबह हुई तथा एक और बैठक आज शाम को होगी। कैबिनेट सचिव राज्य के मुख्य सचिव के साथ निरंतर और सीधे संपर्क में हैं। बिहार राज्य अधिकारियों ने अब तक 44,000 लोगों को निकाला है। राज्य प्रशासन से इस प्रक्रिया को तेज करने का अनुरोध किया गया है। 107 शिविर स्थापित किए गए हैं। इसके अलावा 30 पशु शिविर स्थापित किए गए हैं। आरंभिक आकलन करने के लिए 6 व्यक्तियों की लघु आकलन टीम कल रात नेपाल पहुंच गई जिसमें 2 सीडब्ल्यूसी, 2 एनडीआरएफ, 1 भारतीय सेना और 1 जीएसआई का व्यक्ति है। केंद्रीय जल आयोग पानी अचानक छोड़े जाने के संभावित असर का आकलन करने के लिए कम्प्यूटर से अभ्यास कर रहा है। अब तक छोड़ा गया पानी चिंताजनक नहीं है। लेकिन यह अनुमान नहीं लगाया जा सकता कि पानी का प्रवाह अचानक कब बढ़ेगा। सीडब्ल्यूसी परामर्श जारी कर रही है।
ये  हैं तैयारियां 
एनडीआरएफ एनडीआरएफ के 8 दल पहले ही तैनात कर दिए गए हैं। 7 और दल तैनात की जाएंगी जिनमें से 4 पहुंच चुकी हैं और 3 रास्ते में हैं। 5 और दल तैयार रखे गए हैं। एनडीआरएफ फाइबर नौकाओं सहित नौकाएं ले जा रहा है। सेना/वायु सेना 1 समग्र कॉलम सुपौल और एक सहरसा पहुंच गई है। 3 और कॉलम सुकना से कटिहार ले जाई गई हैं। 1 इंजीनियरिंग टास्क फोर्स (ईटीएफ) दानापुर पहुंच गई है, 2 और ईटीएफ भेजी जा रही हैं। लोगों तथा संचार उपकरणों को पूर्णिया ले जाने के लिए 1 एएन-32 विमान दिल्ली से आगरा पहुंच गया है तथा 1 और आगरा में तैयार रखा गया है। गोरखपुर, बगडोगरा और बैरकपुर में एमआई-17 हेलीकॉप्टर तैयार रखे गए हैं। 2 चेतक और 4 एमआई - 17 बिहटा (पटना के निकट) भी भेजे गए हैं। नौसेना के गोताखोर दल तैयार रखे गए हैं। चिकित्सा सहायता करीब 1600 घंटे पर 1 सी-17 विमान पटना के जाना है जिसमें मेडिकल टीम है। इस टीम में 25 व्यक्ति (2 चिकित्सा अधिकारी, 1 निवारक औषधि विशेषज्ञ और एक मेडिकल विशेषज्ञ ) शामिल हैं। विमान में 30 मिलियन टन सामान (स्ट्रेचर इत्यादि ) है। भारत सरकार के दिल्ली स्थित अस्पतालों से 20 डाूक्टर भी इस विमान में जा रहे हैं। संचार भारत सरकार ने बिहार की राज्य सरकार को कल रात 15 सेटेलाइट फोन दिए। एनडीआरएफ टीम भी सेटेलाइट फोन ले जा रही हैं। अंतरिक्ष विभाग भी उपग्रह से जानकारी प्राप्त करेगा और कल से उपलब्ध करानी शुरू करेगा। अनाज खाद्य विभाग से पूरी सहायता देने के लिए कहा गया है। प्रभावित क्षेत्रों में भारतीय खाद्य निगम के गोदामों में पर्याप्त अनाज उपलब्ध है
------------------नोट - ये खबर दोनों भाषा में इसलियें लगाईं हैं ताकि वक़्त रहते ज़रूरतमंद लोगो तक हर जानकारी आसानी से वक़त रहते पहुच सके !

Comments

CAPTCHA code

Users Comment