आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने आज निर्देश दिया कि उ0प्र0 फिल्म विकास परिषद की नयी वेबसाइट शीर्ष प्राथमिकता से बनायी जाये। उन्होंने निर्देश दिया कि फिल्म बन्धु की वेबसाइट पर फिल्म निर्माण की स्थिति को निरन्तर अपलोड किया जाये। यदि किसी कारण से किसी फिल्म का निर्माण रूक जाता है या अधूरा रह जाता है, तो उसका विवरण भी वेबसाइट पर डाला जाये। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि कार्यों में पारदर्शिता रखी जाये और पूर्ण पारदर्शिता के लिए हर स्तर की कार्यवाही का विवरण वेबसाइट पर अंकित किया जाये। 

अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी आज लोकभवन स्थित अपने कार्यालय के सभाकक्ष में विख्यात हास्य कलाकार एवं उ0प्र0 फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष राजू श्रीवास्तव के साथ उ0प्र0 फिल्म बंधु के कार्यों की समीक्षा बैठक कर रहे थे। बैठक में उन्होंने निर्देश दिया कि फिल्मों की स्क्रिप्ट परीक्षण कमेटी के पुनर्गठन पर विचार कर लिया जाये तथा इस कमेटी में सदस्यों की संख्या बढ़ायी जाये। फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष श्री राजू श्रीवास्तव द्वारा फिल्म सेंसर बोर्ड के रहते स्क्रिप्ट परीक्षण कमेटी की उपयोगिता पर सवाल उठाया गया, जिस पर अपर मुख्य सचिव ने जानकारी दी कि यह कमेटी फिल्मों की प्रदेश से सम्बद्धता और प्रदेश के सकारात्मक चित्रण को सुनिश्चित करती है। 

उन्होंने समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि बाॅलीवुड के फिल्मनिर्माताओं को उत्तर प्रदेश में फिल्म निर्माण के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए, उन्होंने कहा इसके लिए वालीवुड में उ0प्र0 फिल्म विकास की एक कार्यशाला का आयोजन सुनिश्चित किया जाए, जिसमे फिल्म प्रोड्यूसर तथा निर्माताओं को आमंत्रित किया जाये। बैठक में अपर मुख्य सचिव ने कहा कि फिल्म निदर्शनी बनाने का कार्य शीघ्रता से किया जाये।

फिल्म निर्माण से जुड़े लोगों को सभी जानकारियां उपलब्ध कराने और आवश्यक कार्यवाही पूर्ण कराने की दृष्टि से अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने उ0प्र0 फिल्म विकास परिषद का एक कार्यालय शीर्ष प्राथमिकता से स्थापित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के नए भवन का निर्माण पूर्ण हो जाने पर यह कार्यालय उस नए भवन में स्थानान्तरित कर लिया जायेगा।

बैठक में राजू श्रीवास्तव ने प्रदेश में फिल्म सिटी के निर्माण की योजना पर कार्य किए जाने हेतु चर्चा की। अपर मुख्य सचिव ने सूचना निदेशक शिशिर से फिल्म सिटी के निर्माण हेतु भूमि व्यवस्था की जानकारी ली। उन्होंने सूचना निदेशक से कहा कि फिल्म सिटी निर्माण कार्य के लिए सलाहकार (कन्सल्टेंट) रख लिया जाए।

बैठक में राजू श्रीवास्तव ने प्रदेश में फिल्म निर्माण के प्रति माहौल के प्रति चर्चा करते हुए कहा वर्तमान सरकार में प्रदेश में सकारात्मक माहौल बना है और फिल्म निर्माताओं में यहां फिल्म निर्माण का कान्फिडेंस बढ़ा है।

सूचना निदेशक शिशिर ने बैठक में पिछले निर्णयों पर अब तक की कार्यवाही, सी0ए0 के पारिश्रमिक भुगतान तथा फिल्मों को अनुदान देने सम्बन्धी विचारण तथा गोवा फिल्म बाजार-2018 में प्रतिभाग तथा स्पान्सरशिप धनराशि की स्वीकृति विचारार्थ प्रस्तुत किए गए।

बैठक में मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी एवं प्रभारी अपर निदेशक सूचना श्रीनिवास त्रिपाठी, संयुक्त निदेशक सूचना विनोद कुमार पाण्डेय, संयुक्त सचिव फिल्म बंधु संजय कुमार अस्थाना, वित्त विभाग के वरिष्ठ तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।