Saturday, June 6th, 2020

प्रदेश में अंतिम छोर तक पात्र वयक्तियो को योजनाओं से लाभान्वित किया जावे - डा0 जीतेंद्र सिंह

आई.एन.वी.सी,, जयपुर,, भीलवाड़ा जिले के प्रभारी उर्जा मंत्री डा0 जीतेंद्र सिंह ने कहा कि गरीबी उन्मूलन की दिशा में राज्य एवं केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ ग्रामीण क्षेत्रों में अंतिम छोर तक के पात्र व्यçक्तयों को मिले ऐसे समन्वित प्रयास सुनिश्चित किए जाने चाहिए। डा0 सिंह शुक्रवार को भीलवाडा के जिला कलक्टर कार्यालय सभागार में जिला स्तरीय बीस सूत्री कार्यक्रम की प्रथम स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यक्रम के तहत प्रगति की समीक्षा करते हुए संबंधित विभागीय अधिकारियों को समय रहते लक्षयपूर्ति के निर्देश दिए। उर्जा मंत्री ने कहा कि वर्तमान में बिजली का संकट राष्ट्रव्यापी हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा शीघ्र ही बिजली के संकट दूर के लिए विद्युत उत्पादन में वृद्धी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आगामी वर्ष तक प्रदेश में 1700 मेघावाट बिजली का अतिरिक्त उत्पादन शुरू हो जाएगा जिससे मांगते ही लोगों को बिजली मिलेगी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने पिछले ढाई साल में 2700 मेघावाट बिजली का उत्पादन बढाया है और 12 लाख डोमेस्टिक कनेक्शन जारी किए है। आगामी वर्ष 2013 तक 1भ् मेघावाट सौर उर्जा का भी उत्पादन हो सकेगा। राज्य में 800 नए गि्रड स्टेशन बन रहे है उनमें से 84 गि्रड स्टेशन अकेले भीलवाड़ा जिले में बनाए जा रहे है। उर्जा मंत्री ने बैठक के दौरान ही विद्युत वितरण निगम के उच्च अधिकारियों को phone करके निर्देश दिए कि गांवों में सायंकाल 6 से 10 बजे तक विद्युत आपूर्ति निबाüध जारी रहे तथा भीलवाड़ा शहर में लोड वृçद्ध कर बिजली की उपलब्धता कराने के निर्देश दिए। उन्होंने विद्युत निगम के अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों व आम नागरिकों द्वारा दर्ज शिकायतों व समस्याओं को यथाशीघ्र निराकरण करने की हिदायद दी। उन्होंने कहा कि भीलवाड़ा जिले की महती पेयजल योजना क्वक्व चंबल पेयजल योजना ंं को शीघ्र ही प्राथमिकता से चालू किया जाएगा। उन्होंने घटते जल स्तर पर चिंता व्यक्त करते हुए हार्वेस्टing सिस्टम और टांका निर्माण को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर जोर दिया। उर्जा मंत्री ने अवैध रूप से जल दोहन करने वालों के खिलाफ सती बरतने की भी जरूरत बताई। उन्होंने फ्लोराइडयुक्त पानी से प्रभावित गावों में  शुद्ध पेयजल मुहैया कराने तथा फ्लोराइडयुक्त पानी वाले हेंडpumpों में फिल्टर लगाने के लिए भी अधिकारियों को निर्देश दिए। डा0 सिंह ने जिले में सड़कों की दयनीय स्थिति के सुधार करने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों  को पेचवर्क कार्य, हरियालो राजस्थान में बनने वाली सड़कों व प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में निर्मित सड़कों आदि की प्रगति से आगामी बैठक में अवगत कराने के निर्देश दिए। बैठक में जिला कलक्टर श्री ओंकार सिंह ने बताया कि जिले के पायलट प्रोजेक्ट वाले 101 गांवो में 322 स्वयं सहायता समूहों का गठन किए जा चुके है। उन्होंने बताया कि जिले की 381 पंचायतों में भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केंद्र भवनों का निर्माण किया जा चुका है। मुयमंत्री ग्रामीण बीपीएल आवास योजना में 12 हज़ार 6भ् स्वीकृतियां जारी की जा चुकी है। मुय कार्यकारी अधिकारी श्री के.सी.मीणा, बीस सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष श्री कैलाश व्यास तथा जिला प्रमुख श्रीमती सुशीला सालवी ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर  जिला पुलिस अधीक्षक सहित जनप्रतिनिधि एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे ।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment