Close X
Wednesday, April 21st, 2021

प्रदेश की जीडीपी जल्द पार करेगी 10 लाख करोड़ का आंकड़ा 

आई एन वी सी न्यूज़
भोपाल,
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि शीघ्र ही प्रदेश की जीडीपी 10 लाख करोड़ पार कर जाएगी। प्रदेश में संसाधन जुटाकर विभिन्न वर्गों के कल्याण के कदम उठाए गए हैं। आर्थिक प्रबंधन और सुशासन से यह कार्य आसान होते हैं। बीते एक वर्ष में कोरोना सहित आर्थिक संसाधनों की कमी के बाद भी आमजन को योजनाओं का लाभ दिलवाने पर पूरा ध्यान दिया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मिंटो हाल सभाकक्ष में टी.वी. चैनल न्यूज-18 द्वारा आयोजित राइजिंग मध्यप्रदेश - 2021 कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर सिने अभिनेता श्री आशुतोष राणा और वरिष्ठ मीडिया पदाधिकारी श्री प्रतीक त्रिवेदी द्वारा प्रस्तुत काव्य पाठ भी सुना। मुख्यमंत्री ने अभिनय और मीडिया जगत से जुड़ी प्रतिभाओं की सराहना की। इस अवसर पर चैनल द्वारा मुख्यमंत्री श्री चौहान से किए गए संवाद को उपस्थित दर्शकों के साथ ही ऑनलाइन प्रसारण द्वारा सुना गया।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी आपदा को अवसर में बदलना जानते हैं। उन्होंने जब आत्मनिर्भर भारत का मंत्र दिया तब मध्यप्रदेश ने अधोसंरचना विकास, स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार, सुशासन आदि प्रमुख स्तंभों के आधार पर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए रोडमैप बनाया। मध्यप्रदेश सरकार ने आर्थिक कठिनाईयों के बावजूद कोरोना काल में विभिन्न वर्गों के कल्याण के लिए कदम उठाए। प्रदेशवासियों को एक लाख 18 हजार करोड़ की राहत दी गई। संसाधनों की कमी को आड़े न लाते हुए सभी के कल्याण की चिंता की गई। प्रदेश का बजट भी आत्मनिर्भर और वास्तविक बजट है। यह जनता को करों से बचाकर विभिन्न क्षेत्रों में लाभान्वित करने का कार्य करेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में आमजन की जिन्दगी को मुश्किल बनाने वाले कई तरह के माफिया के‍ विरूद्ध राज्य शासन द्वारा सख्त कार्रवाई की गयी। चिटफंड कम्पनियों द्वारा की गई ठगी के दोषियों को पकड़ा गया है। नागरिकों को उनकी राशि वापस करवायी गयी है। अतिक्रमण करने वाले, मिलावट करने वाले बड़े अपराधियों पर शिकंजा कसा गया है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में जनकल्याण पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है। राजनैतिक मतभेद के आधार पर नहीं पुख्ता आधार पर दोषियों के विरूद्ध कार्रवाई की गई है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment