Close X
Saturday, July 24th, 2021

प्रतिदिन हों 2 लाख टेस्ट

आई एन वी सी न्यूज
लखनऊ,

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश में अब तक कोविड-19 के 50 लाख 80 हजार से अधिक टेस्ट किए जाने पर संतोष व्यक्त करते हुए मेडिकल टेस्टिंग के कार्य को पूरी तेजी से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि कोरोना के संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए सभी प्रयास जारी रखे जाएं। इस कार्य में मेडिकल टेस्टिंग के साथ-साथ सर्विलांस, काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा डोर-टू-डोर सर्वे की भी महत्वपूर्ण भूमिका है। इसके दृष्टिगत इन कार्यों को भी पूरी तेजी से संचालित किया जाए।
श्री अवस्थी ने बताया कि कोविड चिकित्सालयों की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि कोविड अस्पतालों में वेंटीलेटर सहित सभी मेडिकल उपकरण क्रियाशील रहने चाहिए। आॅक्सीजन का 48 घण्टे का बैकअप भी अनिवार्य रूप से उपलब्ध रहना चाहिए। उन्होंने कहा है कि कोविड मरीजों में एच0एफ0एन0सी0 (हाई फ्लो नेजल कैन्युला) का अच्छा रिस्पाॅन्स देखने में आया है। इसके दृष्टिगत इस उपचार विधि को भी क्रियाशील रखा जाए। उन्होंने जनपद लखनऊ, कानपुर नगर, गोरखपुर तथा शाहजहांपुर में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश देते हुए इन जिलों की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि प्रदेश के सभी बाजारों की साप्ताहिक बन्दी शनिवार व रविवार को ही रहेगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया है कि 30 सितम्बर तक पूरे प्रदेश में कोई भी धार्मिक व सार्वजनिक कार्यक्रम करने की अनुमति न दी जाए। राज्य में प्रत्येक शनिवार तथा रविवार को स्वच्छता, सेनिटाइजेशन एवं फाॅगिंग का विशेष अभियान संचालित किया जा रहा है। इन कार्यों से जहां कोरोना की चेन को तोड़ने में मदद मिल रही है, वहीं संचारी रोगों पर भी प्रभावी नियंत्रण स्थापित हो रहा है। उन्होंने जिलाधिकारियों को बाजारों की साप्ताहिक बन्दी सख्ती से लागू कराने के निर्देश दिए हैं।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि शासन द्वारा बाढ़ प्रभावित जनता के लिए सभी प्रकार की मदद की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों को प्रभावी ढंग से संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा है कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में स्वच्छता एवं सेनेटाइजेशन का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया है कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में रह रहे लोगों को मकान के क्षतिग्रस्त होने पर मुआवजा अविलम्ब उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने ये भी निर्देश दिए है कि किसानों को खाद की उपलब्धता में कोई असुविधा न होने पाए, इसके लिए खाद की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही के साथ-साथ खाद की सुगम आपूर्ति के लिए सभी प्रबन्ध किए जाएं।
श्री अवस्थी ने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा की गयी कार्यवाही में अब तक धारा 188 के तहत 2,05,399 लोगों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज की गई। प्रदेश में अब तक 1,35,96,912 वाहनांे की सघन चेकिंग में 69,765 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 69,75,88,709 रूपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। आवश्यक सेवाओं हेतु कुल 4,32,924 वाहनों के परमिट जारी किये गये हैं। उन्होंने बताया कि कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1117 लोगों के खिलाफ 831 एफआईआर दर्ज करते हुए 393 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। फेक न्यूज के अन्तर्गत अब तक 2365 मामलों में संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की गयी है। प्रदेश के 15,471 कन्टेनमेंट जोन के 1196 थानान्तर्गत 14,35,590 मकानों के 82,35,427 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन कन्टेनमेंट जोन में कोरोना पाॅजिटिव लोगों की संख्या 37,914 है। प्रदेश में हाॅटस्पाॅट वाले बस्तियों की अनुमानित जनसंख्या 87,52,630 के सापेक्ष 15,587 डोर स्टेप डिलिवरी मिल्क बूथ/मैन के द्वारा दूध वितरित किया गया है। डोर स्टेप डिलिवरी ‘फल, सब्जी आदि’ कुल 19,264 वाहन लगाये गये हैं। डोर स्टेप डिलिवरी वाले प्रोविजन स्टोर की संख्या 16,786 है। प्रोविजन स्टोर के माध्यम से डिलिवरी करने वालों की संख्या 16,785 है। हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों में कुल 20 प्रचलित सामुदायिक किचन हैं। इन बस्तियों में 22,46,529 राशन कार्डो पर खाद्यान्न वितरण किया गया है। इसके अतिरिक्त सरकारी संस्थाओं/सामुदायिक किचन के माध्यम से 1,088 नागरिकों को लाभान्वित तथा धार्मिक/स्वैच्छिक संस्थाओं के माध्यम से 296 नागरिकों को लाभान्वित किया गया है। उन्होंने बताया कि निर्माण कार्यों से जुडे़ 17.14 लाख श्रमिकों को द्वितीय किश्त का भी भुगतान किया जा चुका है।
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में कल एक दिन में 1,38,378 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक 50,80,205 सैम्पल की जांच की गयी है, जो अब तक का सर्वाधिक कोरोना टेस्टिंग का कीर्तिमान है। अब 50 लाख टेस्ट करने वाला उ0प्र0 देश में प्रथम स्थान पर है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में विगत 24 घंटंे में कोरोना के 5,463 नये मामले आये है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 52,309 कोरोना के एक्टिव मामले हैं, जिसमें 26,504 मरीज होम आइसोलेशन, 2348 लोग प्राइवेट हास्पिटल में तथा 245 मरीज सेमी पेड फैसिलिटी में तथा इसके अतिरिक्त शेष कोरोना संक्रमित एल-1, एल-2, एल-3 के कोरोना अस्पतालों में है। प्रदेश में अब तक 1,52,493 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं।
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में ई-संजीवनी पोर्टल का लगातार प्रयोग किया जा रहा है। कल 1,829 लोगों ने ई-संजीवनी पोर्टल का प्रयोग करते हुए डाॅक्टरों से सलाह ली। अब तक 45,296 लोगों ने ई-संजीवनी पोर्टल पर चिकित्सीय परामर्श प्राप्त किया। उन्होने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस की कार्यवाही के अन्तर्गत 2,86,433 सर्विलांस टीम द्वारा 1,95,34,268 घरों के 9,82,09,365 लोगों का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की जा रही है और कोविड के साथ-साथ नाॅन कोविड केयर पर भी ध्यान दिया जा रहा है। उन्हांेने बताया कि पिछले वर्ष 01 जून से 26 अगस्त तक 40,685 से अधिक मेजर सर्जरी की गयी है। इसी अवधि में इस वर्ष 01 जून से 25 अगस्त तक 50,701 मेजर सर्जरी की गयी थी। इसी अवधिम में इस वर्ष 63,906 माइनर सर्जरी हुयी है। जबकि पिछले वर्ष 83,315 माईनर सर्जरी हुई थी। इससे प्रतीत होता हैं कि कोरोना काल में भी नान कोविड चिकित्सा पर भी कार्य किया जा रहा है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment