Tuesday, February 25th, 2020

पुलिस ने दबोचे खूनी खिलाडी

pinjore shoot out accused in courtसुखजीवन शर्मा,, आई एन वी सी,, पंचकूला,, नैशनल हाईवे 22 पर बुधवार सुबह हुए खूनी खेल में 8 आरोपियों को पिंजौर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने वारदात के लिए प्रयोग की दो गाडिय़ों सहित लोहे की रॉडें, हथौड़ें एवं अन्य सामान वरामद कर लिया है। पुलिस ने मुख्य आरोपी ङ्क्षपकी एवं अमित को तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है, जबकि अन्य 6 आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। बुधवार को यह खूनी खेल सरेआम खेला गया था। जिसके बाद लोगों के पथराव के बाद यह आरोपी फरार हो गए थे। गौरतलब है कि लगभग चार साल पूर्व क्रिकट खेल रहे कुछ बच्चों पर जानलेवा हमला करने वाले 10 आरोपियों के खिलाफ परीक्षित चौधरी ने गवाही दे दी थी। जिसके बाद आरोपियों को सजा हो गई थी। इसी के चलते बुधवार को आरोपी पक्ष के लोगों ने परीक्षित चौधरी एवं उसके साथियों पर हमला किया है। परीक्षित चौधरी अपने अन्य तीन दोस्तों परमिंद्र, हिमांशु व जगदीप के साथ पिंजौर से अपनी कार में चंडीगढ़ आ रहा था। तभी पिंजौर के रोनक होटल के बाहर उनकी कार को कुछ हथियार बंद युवकों ने रोक लिया और उनके साथ मारपीट शुरू कर दी थी। आरोपियों में से एक युवक पिंकी ने पहले तो हवा में एक फायर किया और उसके बाद उसके दोस्त अमित ने पिंकी से रिवॉल्वर लेकर परमिंद्र को गोली मार दी थी, जोकि उसकी टांग में लगी थी। आरोपियों ने परविंद्र को गोली मारने के साथ ही परीक्षित, हिमांशु एवं जगदीप की हथौड़ों, डंडों एवं तलवारों से जमकर पिटाई की थी। जिससे परीक्षित के मुंह में काफी घाव हो गए। हमलावरों को खदेडऩे के लिए आसपास खड़े लोगों ने इन आरोपियों पर पथराव कर दिया। जिसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गये थे। वीरवार को पिंजौर पुलिस के समक्ष पेश होकर पिंकी, अमित, अमन, पोला, सतीश उर्फ टीटी, राजेंद्र, बलदेव सिंह, गुरमीत ने आत्मसमर्पण कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया था। आज सभी आरोपियों को डियूटी मैजिस्टे्रट के समक्ष पेश किया गया था। जहां से पुलिस को पिंकी और अमित का पुलिस रिमांड मिल गया है। पुलिस ने आरोपियों से वारदात के समय प्रयोग की गई पिस्तौल हासिल करनी है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment