Thursday, February 27th, 2020

पिंकसिटी के साथ ग्रीनसिटी के रूप में बने जयपुर की पहचान : वसुन्धरा राजे

vasundhra raje invc neesआई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि जयपुर की पहचान पिंकसिटी के साथ ग्रीनसिटी के रूप में भी बने इसके लिये शहर की महत्वपूर्ण सडक़ों की लैण्डस्केपिंग, वॉक-वे के निर्माण और पार्कों के सौंदर्यकरण के कार्य शीघ्र पूरे किये जायें। श्रीमती राजे गुरुवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में जयपुर विकास प्राधिकरण की परियोजनाओं की समीक्षा कर रही थीं।
        मुख्यमंत्री ने कलेक्ट्रेट सर्किल से खासा कोठी होते हुए राजमहल पैलेस चौराहे तक तथा अम्बेडकर सर्किल से सोड़ाला तक नई ऐलिवेटेड रोड़ के लिये डीपीआर बनाकर कार्य शीघ्र प्रारम्भ करने के निर्देश दिये हैं ताकि शहर में ट्रेफिक जाम से निजात दिलाकर यातायात को सुगम बनाया जा सके। उन्होंने दुर्गापुरा में बन रही ऐलिवेटेड रोड के कुल 52 स्पान में से शेष रहे 19 स्पान का कार्य भी शीघ्र पूरा कर रिसर्जेंट राजस्थान समिट से पहले रोड शुरू करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ऐलिवेटेड रोड़ बनाते समय इस बात का पूरा ध्यान रखें कि इससे शहर का सौंदर्य बिगड़े नहीं बल्कि और निखरे।
        श्रीमती राजे ने जयपुर शहर में ऐतिहासिक महत्व की 14 पुरानी बावडिय़ों को विकसित कर उन्हें पर्यटन की दृष्टि से आकर्षक बनाने के निर्देश दिये। जेडीए के अधिकारियों ने बताया कि बावडिय़ों के विकास के लिये 4 करोड़ रुपये का बजट नगर निगम को दे दिया गया है।
        मुख्यमंत्री ने रामनिवास बाग में चल रहे पुनरूद्घार के कार्यों को जल्द पूरा करने के निर्देश दिये। इसके अलावा आगरा रोड पर बनने वाले सिल्वन पार्क तथा स्मृति वन में बटरफ्लाई वैली का काम भी समय पर पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को मानसरोवर स्थित रोज गार्डन को और खूबसूरत बनाने के निर्देश दिये।
        श्रीमती राजे ने रिंग रोड के कार्य में तेजी लाकर इसे तय समय में पूरा करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने अमानीशाह नाले के कायाकल्प एवं पृथ्वीराज नगर के विकास कार्यों से संबंधित डीपीआर जल्द तैयार करने को कहा। उन्होंने अचरोल में प्रस्तावित गोल्फ कोर्स, कन्वेंशन एवं एग्जीबिशन सेन्टर से संबंधित पीडीकोर का प्रस्तुतीकरण देखा एवं इस संबंध में दिशा निर्देश दिये।
        जेडीए अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि आवासीय योजनाओं के लिये ई-आवेदन, भूखण्डों की ई-नीलामी, कम्युनिटी सेंटर की ऑनलाइन बुकिंग, ई-प्रोक्योरमेंट के बाद अब 5 अन्य तरह की सेवायें ऑनलाइन उपलब्ध कराने पर भी कार्य शुरू कर दिया गया है ताकि लोगों को छोटे छोटे कार्यों के लिये जेडीए के चक्कर नहीं काटने पड़ें।
        बैठक में नगरीय विकास मंत्री श्री राजपाल सिंह शेखावत, महापौर श्री निर्मल नाहटा, मुख्य सचिव      श्री सी.एस.राजन, अतिरिक्त मुख्य सचिव नगरीय विकास श्री अशोक जैन, जयपुर विकास आयुक्त श्री शिखर अग्रवाल, जयपुर नगर निगम के सीईओ श्री आशुतोष ए.टी. पेडणेकर उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment