राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच महाराष्ट्र कांग्रेस की बड़ी नेता और राज्यमंत्री यशोमति ठाकुर ने दावा किया है कि भारतीय जनता पार्टी दो विधायक उनके संपर्क में है। उन्होंने कहा कि हमारे यहां कोई खतरा नहीं है और उद्धव सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी। महाराष्ट्र में अभी शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस गठबंधन की सरकार है। 105 विधायकों के साथ भाजपा यहां विपक्ष में है।

भाजपा को अपने विधायकों पर नजर रखनी चाहिए

यशोमति ठाकुर ने कहा कि महाराष्ट्र ने देश को नया फार्मूला दिया है और सरकार कार्यकाल पूरा करेगी। भाजपा को अपने 105 विधायकों पर नजर रखनी चाहिए क्योंकि इसमें ऐसे विधायक शामिल हैं, जिन्होंने पक्ष और मन बदल दिया है। ये भाजपा से नाखुश हैं और वह पाला बदलना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे विधायक हमारे साथ संपर्क में हैं और किसी भी समय हमारे साथ आ सकते हैं।

महाराष्ट्र का राजनीतिक गणित

महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस की गठबंधन सरकार है। 288 सदस्यीय विधानसभा में शिवसेना के 56, एनसीपी के पास 54 और कांग्रेस के पास 44 विधायक हैं। इसके अलावा उनके पास अन्य पार्टियों के विधायकों का समर्थन है। पांच निर्दलीय विधायकों ने भी सरकार को समर्थन दिया है। गठबंधन के पास 169 सीटें हैं।

भाजपा है सबसे बड़ा विपक्षी दल

महाराष्ट्र चुनाव के दौरान बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनी थी. उसके पास 105 विधायक हैं. इसके अलावा एक आरएसपी, एक जेएसएस और 8 निर्दलीय विधायकों का समर्थन है। यानी बीजेपी गठबंधन के पास 115 सीटें हैं। एमएनएस के एक, एआईएमआईएम के दो और सीपीएम के एक विधायक ने किसी को समर्थन नहीं दिया है। PLC.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here