Close X
Sunday, November 28th, 2021

पार्टी मेँ अपनी लोकप्रियता से उत्साहित राहुल गाँधी का दिल से निकला बेहद जोशिला और द्वीभाषिय भाषण।

images (5)आई एन वी सी,

दिल्ली,

कई घंटो के इंतज़ार के बाद पार्टी कार्यकर्ताओँ के बीच अपनी लोकप्रियता से अति उत्साहित कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने आखिर अपने कार्यकर्ताओँ को अपने दिल से निकले शब्दो से खुश कर ही दिया।  कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नई दिल्ली में आयोजित एआईसीसी की बैठक में कहा कि संप्रग की 10 साल की स्थिरता ने युवाओं को व्यापक अवसर दिये।साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री को उनके महान कार्यों के लिए धन्यवाद दिया।

राहुल ने सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह की तारीफ के साथ अपना भाषण शुरू किया। उन्‍होंने आरटीआई, लोकपाल, पंचायती राज, मनरेगा को अपनी सरकार की उपलब्धि बताते हुए कहा कि मनमोहन सिंह के 10 साल के कार्यकाल पर हमें गर्व है। राहुल गांधी ने बेहद आक्रामक अंदाज में कहा कि भ्रष्‍टाचार के खिलाफ हमने जितना काम किया, वैसा कोई और नहीं कर सकता। उन्‍होंने कहा कि पैकेजिंग की राजनीति में असल मुद्दे पीछे छूट रहे हैं। लोकतंत्र तनाशाही से नहीं चलता है। उन्‍होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा कि पार्टी बाहर से नेताओं को टिकट नहीं देगी, बल्कि अपने कार्यकर्ताओं को आगे बढ़ाएगी।

राहुल गांधी ने कहा कि सोनिया गांधी और अन्य वरिष्ठ नेता कांग्रेस की ताकत हैं। उन्होंने कहा कि कानून बनाने की प्रक्रिया में हमें सांसदों और विधायकों की आवाज वापस लानी है। राहुल ने कहा कि आम आदमी को राजनीति में प्रवेश करना चाहिए, जो अब आसान नहीं रह गयी है। उन्होंने साल दर साल संसद बाधित करने और सांप्रदायिक नफरत की आग जलाने के लिए भाजपा पर किया परोक्ष हमला।

आज राहुल बेहद आक्रामक अंदाज़ में नज़र आये। उनके भाषण से कार्यकर्ता इतने उत्‍साहित दिखे कि ज़ोर-ज़ोर से नारे लगाने लगे। खुद सोनिया गांधी भी बेटे का आक्रामक अंदाज़ देख कर खुशी से फूली नहीं समा रही थीं। राहुल गांधी ने कहा- कांग्रेस को कोई नहीं मिटा नहीं सकता है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस को मिटाने की बात करने वाले खुद मिट जाएंगे। उन्‍होंने कहा- विपक्ष कांग्रेस को हटाने की बात करता है, पर विपक्षियो सुन लो, कांग्रेस महज़ एक पार्टी का नाम नहीं है,  बल्कि यह एक सोच है। उन्‍होंने कार्यकर्ताओं से कहा- आप जो मुझसे कहेंगे, मैं वो करूंगा, चाहे वो जो भी हो।

राहुल ने सैम पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर की जम कर तारीफ की। उन्‍होंने पंचायती राज व्‍यवस्‍था के लिए मणिशंकर अय्यर की जम कर तारीफ की। राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी का नाम लिए बिना उन पर निशाना साधते हुए कहा कि लोकतंत्र किसी एक आदमी से नहीं चलता। हमें जनप्रतिनिधियों को ताकत देनी होगी। उन्‍होंने आरटीआई पर कहा कि हमने किसी के दबाव में यह कानून नहीं बनाया।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सरकार की वाहवाही करते हुए विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने AICC की बैठक में कहा कि विपक्ष आरोप लगाता है कि कांग्रेस से देश को बर्बाद कर दिया है, लेकिन हकीकत ये नहीं है वो देश को गुमराह कर रहे हैं। पिछले 10 सालों में काफी विकास हुआ है, सरकार ने देश की जनता को कई अधिकार दिए हैं। सरकार ने 14 करोड़ों लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकाला है, उनकी रोजी–रोटी का व्यवस्था किया है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि अगर उनकी सरकार फिर से सत्ता में आई तो अगले पांच साल में वो देश की तस्वीर बदल देंगे। राजनीति में महिलाओं की भागीदारी 50 फीसदी तक कर देंगे, वो खुद आगे जनता की लड़ाई लड़ेंगे। जनता की राय से घोषणापत्र बनाई जाएगी। युवाओं को राजनीति से जोड़ा जाएगा। कार्यकर्ताओं से पूछकर उम्मीदवार तय करेंगे।

विपक्ष पर चुटकी लेते हुए राहुल ने कहा कि विपक्ष काम कम मार्केटिंग ज़्यादा करते हैं। वो चमक-दमक के पीछे भागते हैं। विपक्ष की पार्टियां ऐसी मार्केटिंग कर रही हैं कि वो गंजों को कंघी बेच रही हैं। बिना नाम लिए आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि ये तो मार्केटिंग में एक कदम आगे हैं, ये गंजे लोगों का हेयरकटिंग करने में जुटी है।

अपने भाषण मेँ राहुल ने बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वो कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हैं। लेकिन कांग्रेस को खत्म करना आसान नहीं है क्योंकि ये कोई संगठन नहीं है, ये एक सोच है, ये देश की जनता की सोच है। और इसे मिटाने की चाह रखने वाले खुद मिट जाएंगे। विपक्ष को इतिहास की जानकारी नहीं है कुछ भी आरोप लगाते हैं।

इससे पहले अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की शुक्रवार को हुई बैठक में स्वीकृत प्रस्ताव में कहा गया है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी के प्रचार अभियान का नेतृत्व करेंगे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment