Monday, December 16th, 2019

पाकिस्तान करेगा अब नई नौटंकी

इस्लामाबाद: जम्मू एवं कश्मीर (Jammu Kashmir) को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) की नौटंकी थमने का नाम नहीं ले रहा है. दुनिया वालों ने पाकिस्तान (Pakistan) का कश्मीर अलाप सुनने से मना कर दिया तो अब वह अपने देश में ही इसपर तरह-तरह की हरकतें करके जम्मू कश्मीर के लोगों के प्रति झूठी संवेदना दिखाने की कोशिश कर रहा है. क्रिकेटर पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान अपनी इस नौटंकी को सफल बनाने के लिए क्रिकेटरों का सहारा ले रहे हैं. वे किसी भी सूरत में कश्मीरियों को उकसाने के लिए समाज में युवाओं के रोल मॉडल माने जाने वाले क्रिकेटरों का सहारा ले रहे हैं. प्रोपेगेंडा फैलाने में पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी बढ़-चढ़कर इमरान खान की मदद कर रहे हैं.

नौटंकी की इसी कड़ी में पाकिस्तान (Pakistan) ने शुक्रवार (30 अगस्त) को तीन मिनट खड़े रहकर कश्मीरियों के प्रति दिखावटी संवेदना दिखाने की कोशिश करेगा. शायद पाकिस्तान (Pakistan) के हुक्मरानों को यह बात समझ में नहीं आ रही है कि जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक की ओर से बुधवार को दिया गया बयान दुनिया को बताने के लिए काफी है कि वहां धारा 370 निष्क्रिय किए जाने के बाद से किसी की भी जान नहीं गई है. सुरक्षा के सख्त इंतजाम के बीच कश्मीरी पूरी तरह सुरक्षित हैं.

जम्मू एवं कश्मीर (Jammu Kashmir) को मिले विशेष दर्जे को समाप्त करने के भारत के फैसले के बाद पाकिस्तान (Pakistan) किसी न किसी रूप में इस मुद्दे को जिंदा रखने की कोशिश कर रहा है. इसी सिलसिले में पाकिस्तान (Pakistan) सरकार ने कहा है कि आगामी शुक्रवार को पूरे पाकिस्तान (Pakistan) में तीन मिनट तक लोग खड़े रहकर कश्मीरियों के साथ एकजुटता का प्रदर्शन करेंगे. पाकिस्तान (Pakistan)ी मीडिया में प्रकाशित खबरों के अनुसार पाकिस्तान (Pakistan)ी प्रधानमंत्री की सूचना एवं प्रसारण मामलों की सलाहकार फिरदौस आशिक अवान ने यह जानकारी दी है.

पाकिस्तान (Pakistan)ी सेना के प्रवक्ता ने भी एक बयान जारी कर लोगों से इस मुहिम में शामिल होने का आह्वान किया है. पाकिस्तान (Pakistan)ी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने भी लोगों का आह्वान किया है कि वे प्रधानमंत्री इमरान खान की इस अपील को अपना पूरा समर्थन दें और शुक्रवार को मुहिम में शामिल हों.

रिपोर्ट के अनुसार, अवान ने यहां एक कार्यक्रम में लोगों से कहा कि वे प्रधानमंत्री इमरान खान के इस आह्वान में बढ़ चढ़कर हिस्सेदारी करें और 'कश्मीर पर एकजुटता का मजबूत संदेश दुनिया को दें.'

कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए अवान ने बताया कि शुक्रवार को दोपहर 12 बजे (स्थानीय समयानुसार) लोग तीन मिनट तक खड़े रहकर कश्मीरी अवाम के साथ अपनी एकजुटता दिखाएं. उन्होंने कहा कि घरों में, दफ्तरों में, स्कूल-कॉलेजों में, हर जगह पर समाज के हर तबके के लोग इसे अंजाम दें. 


अवान ने बताया कि खुद प्रधानमंत्री खान अपने कार्यालय के बाहर प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे. इसी तरह सभी प्रांतों के मुख्यमंत्री अपने-अपने इलाकों में प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे. PLC 



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment