Saturday, January 25th, 2020

पर्यावरण संरक्षण सबकी नैतिक जिम्मेदारी

आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
प्रमुख सचिव, न्याय श्री दिनेश कुमार सिंह-प्प् ने कहा कि वृक्षारोपण का उद्देश्य पर्यावरण के संतुलन को बनाए रखना है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण को हर संभव शुद्ध बनाना हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है। इसलिए हम सभी को अधिक से अधिक वृक्षारोपण करना चाहिए।

श्री सिंह आज गोमतीनगर विस्तार स्थित निर्माणाधीन नवीन भवन उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण कार्यालय में मौलश्री, अशोक एवं अन्य प्रकार के पौधों का रोपण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि चूंकि मानव जीवन के लिए हवा-पानी आवश्यक है। शुद्ध हवा-पानी के लिए मानव जीवन पूरी तरह से पेड़ पौधों पर निर्भर है। इस अवसर पर उन्होंने सभी से वृक्षारोपण करने की अपील की तथा इसके प्रति जागरूकता अभियान चलाएं। उन्होंने कहा कि मा0 उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार उ0प्र0 के सभी जनपद न्यायालय में वृक्षारोपण कार्यक्रम किया जा रहा है।


प्रमुख सचिव न्याय ने कहा कि लगाए गए वृक्षों की सुरक्षा की जिम्मेदारी हम सभी की है। उन्होंने कहा कि वृक्षों के कटान को रोकना चाहिए। वर्तमान समय में जिस स्तर पर वृक्षारोपण किया जा रहा है, उसके सुखद परिणाम होंगे तथा आने वाली पीढ़ियों को इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने इतिहास के महान कवि रविन्द्र नाथ टैगोर के शब्दों में बताते हुए कहा कि ‘‘ अगर धरती को स्वर्ग बनाना है तो अधिक से अधिक वृक्ष लगाना चाहिए।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव विधायी श्री जे0पी0 सिंह, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री संदीप जायसवाल, उप सचिव राज्य विधि सेवा प्राधिकरण श्री सुबोध भारती, विशेष सचिव न्याय श्री राकेश शुक्ला, विशेष सचिव न्याय श्री रणवीर सिंह, विशेष सचिव न्याय श्री अरविन्द कुमार मिश्रा, विशेष सचिव न्याय, श्री राजेशपति त्रिपाठी, विशेष सचिव न्याय श्री राजेशपति उपाध्याय, विशेष सचिव न्याय, श्री राम मिलन सिंह एवं अन्य अधिकारियों ने भी वृक्षारोपण किया।
इस अवसर पर विधिक अधिकारियों सहित बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित रहे।
 



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment