पर्यटन क्षेत्र में मंदी से निपटने के लिए भारत का सजग प्रयास : शैलजा

1
75

आईएनवीसी ब्यूरो
लंदन (ब्रिटेन) .
केन्द्रीय पर्यटन मंत्री कुमारी शैलजा ने यहां आयोजित शिखर सम्मेलन में बताया कि विश्वभर में चल रहे आर्थिक मंदी के दौर का असर पर्यटन क्षेत्र पर भी पड़ा है। उन्होंने इस चुनौती से निबटने के सिलसिले में भारत द्वारा किए जा रहे प्रयासों का जिक्र करते हुए बताया कि केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय ने भारत दर्शन वर्ष 2009 (विजिट इंडिया ईयर-2009) नाम से कार्यक्रम शुरू किया है और इसमें एयरलाइन्स, होटलों तथा पर्यटन संचालकों का सहयोग लिया जा रहा है, ताकि विभिन्न देशों से यात्रियों को आकर्षित किया जा सके। विश्वस्तरीय घटनाओं, रोड शो तथा विज्ञापनों के माध्यम से लघु एवं मझौले बाजारों का विकास किया जा रहा है।

कुमारी शैलजा ने बताया कि राष्ट्रमंडल खेलों ने भारत को अपनी अनुपम अतिथि परम्परा का प्रदर्शन करने का सुअवसर प्रदान किया है। आशा है कि अगले वर्ष भारी संख्या में सैलानियों के आगमन के परिणामस्वरूप पर्यटन क्षेत्र में बहुत चहल-पहल रहेगी। आगंतुकों को पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध करानी होगी। इससे हमारे पर्यटन क्षेत्र का और भी विस्तार होगा।

उन्होंने बताया कि हेलीपोर्ट और कारवां पर्यटन के लिए भी सहूलियतें दी जाएंगी. उन्होंने कहा कि राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारियां निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार चल रही हैं और इसके साथ-साथ पर्यटन उत्पादों को प्रदर्शित करने का भी कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस सम्मेलन में जम्मू और कश्मीर राज्य के पर्यटन राज्यमंत्री भी मौजूद थे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here