Saturday, December 14th, 2019

परीक्षा में पकड़े गये दो सोल्वर

आई एन वी सी न्यूज़ लखनऊ

उ0प्र0 पावर कारपोरेशन द्वारा सीधी भर्ती के माध्यम से की जाने वाली आॅन लाइन परिक्षाओं में अनियमितताओं को रोकने के लिये बरती गयी सावधानी के कारण आज सहायक समीक्षा अधिकारी की परीक्षा पहले दिन बिना किसी व्यवधान के सम्पन्न हो गयी। एक जगह पर परीक्षा में धांधली की कोषिष हुई तो तत्काल कारपोरेशन के परीक्षा पर्यवेक्षको के द्वारा धांधली पकड़ ली गयी। दो परिक्षार्थियों के स्थान पर परीक्षा (कक्ष) निरीक्षकों को परीक्षा देते हुये पकड़ा गया। चारों दोशियों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराकर पुलिस के हवाले कर दिया गया। यह मामला गोरखपुर के परीक्षा केन्द्र स्वास्तिक आॅनलाइन, नौसढ़ चैक का है। इस केन्द्र को टी0सी0एस0 द्वारा परीक्षा हेतु लीज पर लिया गया था उ0प्र0 पावर कारपोरेशन के परीक्षा पर्यवेक्षकों द्वारा परीक्षार्थियों के जाॅच में यह मामला पकड़ में आया।

उ0प्र0 पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा है कि कारपोरेशन की परीक्षायें बिना किसी अनियमित्ता के सही ढ़ग से हो इसके लिये सभी पुख्ता इंतजाम किये गये है। आॅन लाइन परीक्षा प्रक्रिया को हैकिंग से बचाने के लिये केन्द्रों पर सी0सी0टी0वी0, बायोमैट्रिक एवं जैमर की विषेश व्यवस्था की गयी है। कारपोरेशन, चयन परीक्षाओं को शत-प्रतिशत त्रुटि विहीन एवं निष्पक्ष कराने के लिये प्रतिबद्ध एवं    मा0 मुख्यमंत्री एवं ऊर्जा मंत्री द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुपालन में कृत संकल्पित है। परीक्षाओं में कोई त्रुटि न हो इसके लिए सम्बन्धित अधिकारियों को कड़े निर्देश जारी किये गये हैं। प्रमुख सचिव ऊर्जा ने कहा है कि परीक्षा में किसी तरह की लापरवाही या षिकायत के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

सहायक समीक्षा अधिकारी के पदों पर भर्ती हेतु आॅन लाइन कम्प्यूटर आधारित परीक्षा (सी0बी0टी0) आज एवं 15 सितम्बर को होनी है। उक्त परीक्षा उ0प्र0 के 14 विभिन्न षहरों यथा, आगरा, अलीगढ़, इलाहाबाद, बरेली, गाजियाबाद, गोरखपुर, ग्रेटर नोयडा, झाॅसी, कानपुर, लखनऊ, मेरठ, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर एवं वाराणसी में 31 परीक्षा केन्द्रोें में आयोजित की जा रही है।

आज की परीक्षा में गोरखपुर स्थित परीक्षा केन्द्र स्वास्तिक आॅनलाइन, नौसढ़ चैक, में दो परीक्षा निरीक्षकों को दो छात्रों के स्थान पर परीक्षा देते पकड़ा गया। कम्प्यूटर में प्रदर्शित अभ्यर्थी की मूल फोटो एवं िबायोमेट्रिक के समय ली गयी फोटो से परीक्षा देने वाले अभ्यर्थी का मिलान किये जाने पर फर्जी परीक्षा देने वाले को पकड़ने में परीक्षा पर्यवेक्षकों को सफलता मिली। परिक्षार्थियों के नाम दिलीप कुमारएवं अलमास खान तथा परीक्षा (कक्ष) निरीक्षकों रोशन कुमार प्रजापति एवं राजीव कुमार यादव के विरूद्ध थाने में प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। उपरोक्त परीक्षा में लगभग 55 हजार अभ्यर्थियों द्वारा आवेदन किया गया हैै।



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment