Close X
Thursday, October 29th, 2020

पंडित दीन दयाल उपाध्याय को यह एक सच्ची श्रंदाजलि है : संजय टंडन

sanjayआई एन वी सी न्यूज़ चंडीगढ़ , हमारे देश में अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति के उत्थान के लिए अब देश में विकास की नई-नई योजनाऐं बनाई जा रही है। हमारी वर्तमान सरकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पंडित दीन दयाल उपाध्याय के अंतोदय उत्थान के सपने को सरोकार करने के लिए दिन रात लगी हुई है। यदि हम आज गरीब व्यक्ति का चिंतन और उसके उत्थान के लिए कुछ कर सकें यहीं पंडित जी के लिए एक सच्ची श्रंदाजलि होगी। यह उद्गार केंन्द्रीय स्वास्थय मंत्री (भारत सरकार) जगत प्रकाश नडड्रा ने शुक्रवार को सैक्टर-37 स्थित लॉ भवन में पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्मदिवस पर आयोजित कार्यक्रम जनशताब्दी के दौरान व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि आज युग बदलने का वक्त आ गया। एक वह समय था जब गरीब धन्नाढय़ व्यक्तियों की तरफ गरीब व्यक्ति टकटकी लगाकर देखता था आज केंन्द्र सरकार उस गरीब व्यक्ति तक पहुंचने के लिए विभिन्न योजनाओं जैसे जनधन योजना, सुरक्षा बीमा योजना, जीवन बीमा योजना, अटल पेंशन योजनाओं के मात्र एक वर्ष के अल्प समय के भीतर शुरू कर चुकी है। इसी श्रंखला में और कई योजनाओं पर कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि यह हमारे देश का दुर्भाङ्गय है कि आजादी के पश्चात् हमारे देश की बागडोर ऐसे हाथों में चली गई जो हमारे देश की मिट्टी से जुड़े लोगों के उत्थान के लिए चिंतित नहीं दिखाई दी। यादि उस समय पंडित दीन दयाल और डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के एकात्म मानववाद और गरीब जनता के विकास की विचारधारा, सामाजिक और सांस्कृतिक विकास राष्ट्रवाद की विचारधारा को गंभीरता से लिया गया होता तो आज हमारे देश की आकृति कुछ अलग ही होती। उन्होंने कहा कि जब समूचे विश्व में आर्थिक मंदी का दौर चल रहा था तो हमारे देश को आर्थिक मंदी से यदि किसी ने बचाया तो वह गरीबों के पैसे ने। उनके द्वारा बैंकों में संचित जमा पूंजी के कारण ही आर्थिक मंदी में हम सशक्त साबित हुए। इस सबके के लिए किसी धनाढय़ व्यक्ति की बजाए आम आदमी का पैसा ही काम आया। आज वर्तमान में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हमारे देश में विकास की लहर उठी है। उनके सही नेतृत्व से अब देश में चंदुमुखी विकास होगा और प्रधानमंत्री जन धन योजना एक साक्षात परिमाण है कि मात्र 6 माह के भीतर जो बैंक खाते साढ़े तीन करोड थे, अब साढ़े तेरह करोड़ हो गए और इन्हीं खातों की वजह से 30 हजार करोड़ धनराशि एकत्र हुई, यह है। सही सोच और सही मार्गदर्शन की ताकत। उन्होंने पंडित जी के जीवन पर चर्चा करते हुए बताया कि वह एक सामान्य छवि वाले व्यक्ति थे और उनके विचारों को लेकर पार्टी निंरतर प्रगति कर रही है। पंडित जी ने सारा जीवन राष्ट्रहित के लिए लगा दिया। आज उनके जीवन से हमें बहुत कुछ सीखने को है। इसी के अनुरूप 25 सितंम्बर 2015 से 2016 तक उनके जीवन पर उनकी जनशताब्दी मनाई जाएगी और पूरे वर्ष कई कार्यक्रम आयोजित किए जाऐंगे। इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने पंडित जी के मूल विचार एकात्म मानवाद पर पंडित जी के विचारों और उनकी गरीब व्यक्ति के उत्थान के प्रति सोच की बात रखी। उन्होंने कहा कि आज हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी ने हमारे देश के लघु एवं कुटीर उद्योग, गरीब और बेरोजगारों के लिए  बिना किसी गारन्टी के मात्र 1 प्रतिशत ब्याज की दर से जो मुद्रा बैंक योजना की शुरूआत की है सच्चे मायने में हमारी पार्टी के महान  नेता पंडित दीन दयाल उपाध्याय को यह  एक सच्ची श्रंदाजलि है जिसके लिए हम प्रधानमंंत्री नरेंन्द्र मोदी के धन्यवादी है। इस मौके पर सांसद किरण खेर ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि पंडित जी एक विचारक, जननायक और समाजवादी विचारधारा के पक्षधर थे। उन्होंने सदैव अपना जीवन राष्ट्रपति के लिए लगाया। हमें उनके द्वारा दर्शाये गए मार्ग पर चलकर पार्टी की विचारधारा को जन धन तक पहुंचाना  होगा। आज हमारी पार्टी आर्दश विचारों की पार्टी कहलाती है जिसका सारा श्रेय  पंडित दीन दयाल उपाध्याय को जाता है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment