Close X
Tuesday, April 20th, 2021

पंचायत चुनाव से पहले तबादलों का दौर जारी है

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के लिए सभी दलों में मंथन आखिरी दौर में है। पंचायत चुनाव को यूपी विधानसभा चुनाव का 'सेमीफाइनल' मानते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) कोई कोरकसर नहीं छोड़ना चाहती है। वहीं, बीजेपी के अन्य विपक्षी दल भी राजनीतिक जमीन मजबूत करने में जुटे हैं। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण लिस्ट जारी कर दी गई है। इस लिस्ट पर आठ मार्च तक आपत्तियां दर्ज कराई जा सकती हैं। बताया गया है कि 12 मार्च तक इन सभी आपत्तियों का निस्तारण करने के बाद 15 मार्च को अंतिम सूची जारी की जाएगी।

पंचायत चुनाव से पहले तबादलों का दौर भी जारी है। प्रदेश की योगी सरकार ने मंगलवार देर रात यूपी में 6 जिलों के डीएम के साथ-साथ चार मंडलों के कमिश्नरों का तबादला कर दिया। इसके साथ ही यह भी माना जा रहा है कि आने वाले कुछ समय में प्रदेश में कई आईपीएस अधिकारियों के भी तबादले होंगे।

इन अफसरों के किए गए हैं तबादले
योगी आदित्यनाथ की सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल करते हुए रामपुर, बदायूं, चित्रकूट, बस्ती, देवरिया और कानपुर देहात के जिलाधिकारी के तबादले किए हैं। इसी प्रकार प्रयागराज, बरेली, मेरठ और मुरादाबाद मंडलों के आयुक्तों के भी तबादले किए गए हैं। मुख्यमंत्री के सचिव सुरेंद्र सिंह को मेरठ मंडल का आयुक्त बनाया गया है। मुख्यमंत्री कार्यालय के विशेष सचिव शुभ्रांत शुक्ला को चित्रकूट का नया जिलाधिकारी तैनात किया गया है।

इन्हें सौंपी गई यह जिम्मेदारी, देखें नाम
आनंजय कुमार सिंह, कमिश्नर मुरादाबाद, सुरेंद्र सिंह को कमिश्नर मेरठ, संजय गोयल को कमिश्नर प्रयागराज, दीपा रंजन को डीएम बदायूं, रविंद्र मंदार को डीएम रामपुर, सौम्या अग्रवाल को डीएम बस्ती, आर रमेश कुमार को कमिश्नर बरेली, शुभ्रांत शुक्ला को डीएम चित्रकूट, आशुतोष निरंजन को डीएम देवरिया और जितेंद्र कुमार सिंह को डीएम कानपुर देहात की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

आखिरी दौर में पंचायत चुनाव की तैयारियां
उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियां अंतिम चरण में पहुंच चुकी हैं। पंचायत चुनाव में मंगलवार को प्रदेश के कई जिलों में ग्राम प्रधान, ब्लॉक प्रमुख व वॉर्ड सदस्य पदों के लिए आरक्षण की अनंतिम सूची जारी कर दी गई है। प्रदेश में जिलेवार आरक्षण की लिस्ट ब्लॉक और जिला मुख्यालय पर चस्पा की जा रही है। वहीं फाइनल लिस्ट 15 मार्च को जारी होगी। इसके बाद ही राज्य चुनाव आयोग त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी करेगा। ऐसे में चुनाव की तैयारी में लगे भावी प्रधान समेत अन्य प्रत्याशी चुनाव खर्च का लेखा-जोखा जोड़ने में लगे हैं। PLC.
 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment