नई दिल्ली. नौसेना (Indian Navy) में फर्जी बिल के जरिए घोटाले (Scam) करने के मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने आज चार राज्यों में एक साथ छापेमारी की है. खबर है कि सीबीआई की टीम दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक में एक साथ 30 ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. पश्चिमी नौसेना कमान को आईटी हार्डवेयर की आपूर्ति के लिए जाली बिल बनाकर 6.76 करोड़ रुपये के घपले का आरोप है.
नौसेना के कैप्टन अतुल कुलकर्णी, कमांडर मंदार गोडबोले और आरपी शर्मा और पेटी ऑफिसर एलओजी (F&A) कुलदीप सिंह बघेल पर आरोप है कि इन लोगों ने कथित रूप से फर्जी बिल तैयार कर 6.76 करोड़ रुपये का घोटाला किया है. अभी तक की खबर के मुताबिक छापेमारी के दौरान 10 लाख रुपये नकदी और कई अहम दस्तावेज बरामद किए गए है.
बता दें कि घोटाले का ये पूरा मामला पश्चिमी नौसेना का है.आईटी हाईवेयर की आपूर्ति के लिए आकस्मिक व्यय बिल के भुगतान के नाम पर फर्जी बिल के जरिए इस घोटाले को अंजाम दिया गया था. इस पूरे मामले की रक्षा मंत्रालय की ओर से आंतरिक जांच की जा चुकी है. इसके बाद रक्षा मंत्रालय ने इसकी जानकारी 23 अक्टूबर 2019 को सीबीआई को दी. रक्षा मंत्रालय से हरी झंडी मिलने के बाद सीबीआई ने इस मामले में केस दर्ज किया है.
सीबीआई से जुड़े अधिकारियों को कहा है कि अभी तक की जांच से ऐसा लगता है कि यह घोटाला 6.76 करोड़ से बड़ा सकता है. मामले की जांच की जा रही है. जिन बिल के लेकर घोटाला किया गया है उसके अलावा भी पुराने बिलों की जांच की जा रही है. PLC.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here