नैनो घर : सरकार की ज़िम्मेदारी निभाता टाटा परिवार

8
58

ज़ाकिर हुसैन

नई दिल्ली.  टाटा परिवार हिन्दुस्तान के आम आदमी की नब्ज़ को पकड़ने में माहिर है. यह टाटा का इतिहास बताता है. रतन टाटा अपने परिवार की इसी परंपरा को आगे बढाते हुए आम आदमी के घर का सपना पूरा करने के लिए लाये हैं नैनो घर. यह घर होगा उन लोगों के लिए जो किराए के मकान की छत के नीचे लेते हुए अपनी खुद की एक अदद छत का सपना देखता है. असल में यह नैनो घर एक आदमी के सपने को हकीकत में तब्दील करने जैसा है, जो काम सरकार को करना चाहिए वो काम देश का एक ज़िम्मेदार कारोबारी कर रहा है.  सरकार और भू-माफिया के बीच के रिश्तों को किसी को बताने की कोई ज़रुरत नहीं है. हर खासो-आम यह अच्छी तरह से जानता है की अभी हाल ही में दी दी ये फ्लैट्स लोटरी का घोटाला हो या फिर ग्रुप हाऊसिंग सोसाइटी का घोटाला हो.  सरकारी योजनाओं वाले किसी भी मकान को दलालों और भू-माफिया के रैकेट ने आम आदमी की पहुंच से आज बाहर कर दिया है. क्योंकि कीमतें या बुकिंग अमौंत  इतना ज्यादा होता है की आम आदमी की दिमागी पहुंच से पहले ही बाहर हो जाता है. रही सही कसार घोटालों और दलालों की पूर्व कारस्तानी पूरी कर देती है. आज दिल्ली, मुंबई जैसे बड़े शहरों या उसके आस-पास जब आम आदमी का ‘एक घर हो अपना’ का सपना खत्म हो चूका था, ऐसे में कोई अगर इस सपने को हकीकत में तब्दील करने की बात कर रहा है तो वह है रतन टाटा.   आज के इस आधुनिक भारत में जब मिडल क्लास, लोअर मिडल क्लास सिर्फ अपने अस्तित्व को बचाने की लडाई लड़ रहा है ऐसे में टाटा का नैनो घर उसकी जिंदगी की जद्दो-जहद को एक बहुत बड़ा राहत देगा, पर सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि रतन टाटा पूरे देश के बेघरों को छत देने में कामयाब हो पाएंगे तथा रोटी, कपडा और मकान की ज़िम्मेदारी जिस सर्कार के ऊपर है वो कब घूसखोर अफसरशाही और दलालों के चंगुल से अपने आप को आजाद कराकर अपनी ज़िम्मेदारी कब निभाएगी, क्योंकि अगर एक निजी व्यवसायी इस प्रोजेक्ट को पूरा करने का वादा कर रहा है तो सरकार सब सहूलियतें होते हुए भी अपनी आम आदमी के प्रति ज़िम्मेदारी को कब समझेगी. 

टाटा का कहना है कि टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा हाउसिंग ने देश भर में छोटे मकान बनाने का ऐलान किया है। टाटा हाउसिंग की ‘शुभ गृह’ स्कीम के तहत पूरे देश में सस्ते फ्लैट बनाए जाएंगे। कंपनी देशभर में करीब 6 लाख ऐसे फ्लैट बनाएगी। सबसे पहले मुंबई से सटे ठाणे के बोईसर में सस्ते फ्लैट बनाए जाएंगे, जिनकी कीमत 3.90 लाख रुपए होगी। ये फ्लैट 400 वर्गफीट क्षेत्र में बनेंगे। इनकी बुकिंग के लिए फॉर्म शनिवार से मिलने शुरू हो जाएंगे.  देश के सभी हिस्सों के लोग सिर्फ 10 हजार रूपए जमा कराकर फ्लैट की बुकिंग कर सकते हैं। टाटा का कहना है कि टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा हाउसिंग ने देश भर में छोटे मकान बनाने का ऐलान किया है। टाटा हाउसिंग की ‘शुभ गृह’ स्कीम के तहत पूरे देश में सस्ते फ्लैट बनाए जाएंगे। कंपनी देशभर में करीब 6 लाख ऐसे फ्लैट बनाएगी। सबसे पहले मुंबई से सटे ठाणे के बोईसर में सस्ते फ्लैट बनाए जाएंगे, जिनकी कीमत 3.90 लाख रुपए होगी। ये फ्लैट 400 वर्गफीट क्षेत्र में बनेंगे। यहां बनने वाले फ्लैटों की डिलिवरी 2 साल बाद होगी। इनकी बुकिंग के लिए फॉर्म शनिवार से मिलने शुरू हो जाएंगे.  देश के सभी हिस्सों के लोग सिर्फ 10 हजार रूपए जमा कराकर फ्लैट की बुकिंग कर सकते हैं।

8 COMMENTS

  1. I’d be inclined to okay with you one this subject. Which is not something I typically do! I enjoy reading a post that will make people think. Also, thanks for allowing me to comment!

  2. You’ve some valid ideas there. I did my own search on the topic and found most people will be of the same mind with your weblog. Thanks once more for putting this up. I definitely liked every bit of it.

  3. I completely agree with the above comment, the internet is with a doubt growing into the many important medium of communication across the globe and its due to sites like this that ideas are spreading so quickly. Yours trully, Suzy.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here