Close X
Saturday, January 16th, 2021

नीतीश कुमार ज्‍यादा दिन नहीं रह सकेंगे मुख्‍यमंत्री  

नई दिल्‍ली. बिहार (Bihar) में एनडीए गठबंधन की सरकार और नीतीश कुमार के फिर मुख्‍यमंत्री बनाए जाने पर विपक्ष ने अपना हमला तेज कर दिया है. राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता मनोज झा ने शनिवार को नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनको मिला बहुमत काफी कमजोर है. उन्‍होंने यह भी दावा किया कि इस तरह की सरकार अधिक समय तक नहीं चल पाएगी. वह ज्‍यादा दिन तक मुख्‍यमंत्री नहीं रहेंगे.

मनोज झा ने नीतीश कुमार और एनडीए पर निशाना साधा. उन्‍होंने नीतीश कुमार पर जनता से धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कहा, 'नीतीश कुमार ने 2017 में महागठबंधन से एनडीए में आकर लोगों के जनादेश को दबाने का प्रयास किया है. बिहार की जनता अब जाग गई है.' उन्‍होंने कहा, 'एनडीए और बीजेपी को भी मान लेना चाहिए कि अगर यह बदलाव के लिए जनादेश नहीं होता, तो नीतीश जी राज्य विधानसभा में लगभग 40 सीटें नहीं जीतते. नीतीश कुमार एक बेहद कमजोर बहुमत पर हैं. यह एक तरह से प्रबंधित है. ऐसी प्रबंधित बहुमत वाली सरकार ज्‍यादा दिन नहीं चलती.'

मनोज झा ने कहा कि आरजेडी पहले ही कम वोट अंतर के बारे में चुनाव आयोग से संपर्क कर चुकी है. साथ ही आने वाले दिनों में नीतीश कुमार के खिलाफ जवाबदेही की मांग करते हुए लोगों के सड़कों पर उतरने को लेकर चेतावनी भी दी है.

बता दें कि एनडीए के विधायक दल की संयुक्त बैठक रविवार दोपहर को होनी है. इसमें नीतीश कुमार को गठबंधन का नेता चुना जाएगा. राजग की बैठक में शुक्रवार को यह निर्णय किया गया. इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर एनडीए की अनौचारिक बैठक हुई जिसमें गठबंधन के चार घटक दलों भाजपा, जदयू, हम, वीआईपी के नेताओं ने हिस्सा लिया. जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा, 'रविवार 15 नवंबर को साढ़े बारह बजे बैठक शुरू होगी और इसमें आगे निर्णय किया जाएगा.'
बीजेपी इस चुनाव में 74 सीट जीत कर एनडीए में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभर कर आई है जबकि जदयू को 43 सीटें प्राप्त हुई है हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित भाजपा शीर्ष नेतृत्व ने कुमार को अगला मुख्यमंत्री बनाने पर जोर दिया है. PLC.

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment