Friday, October 18th, 2019
Close X

निजी टीवी चैनलों के लिए अनुमोदन

जाकिर हुसैन्,, नई दिल्ली. सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री सी.एम. जातुया ने कहा है कि भारत से अपलिंक करने की अनुमति मांगने के लिए 143 टीवी चैनलों के आवेदन और भारत में डाउनलिंक करने की अनुमति मांगने हेतु विदेश से अपलिंक किए जा रहे 20 टीवी चैनलों के आवेदन, मौजूदा अपलिंकिंग एवं डाउनलिंकिंग दिशनिर्देशों के अनुसार जांच के विभिन्न चरणों मे हैं। कल लोकसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कि चैनलों का अनुमोदन एक सतत प्रक्रिया है। इस प्रक्रिया के भाग के रूप में मंत्रालय ने अब तक, अपलिंकिंग दिशानिर्देशों के अनुसार 410 निजी उपग्रह टीवी चैनलों को भारत से अपलिंक करने और डाउनलिंकिंग दिशानेर्देशों के अनुसार विदेश से अपलिंक किए जा रहे 73 निजी उपग्रह टीवी चैनलों को भारत में डाउनलिंक करने की अनुमति दी है। उन्होंने ने यह भी जानकारी दी कि यद्यपि कोई, निश्चित समय सीमा निर्दिष्ट नहीं की जा सकती, तथापि, आवेदक कम्पनियों द्वारा पूर्ण अपेक्षित सूचना  दस्तावेज उपलब्ध कराए जाने और अन्य मंत्रालयों से अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त हो जाने के बाद मंत्रालय द्वारा अनुमति दिए जाने के लिए न्यूनतम समय सीमा में आवेदनों पर विचार किया जाता है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment

Lucie Weger, says on November 9, 2010, 11:00 AM

very important info,and many thanks your post

Deedee Steinger, says on October 31, 2010, 4:23 PM

jumbo logbook you hog

Herbal cigarettes, says on October 14, 2010, 1:47 AM

I prefer to require breaks throughout the my working day and browse via some blogs to find out what folks are talking about. This weblog appeared in my searches and i could not support clicking on it. I'm pleased that I did mainly because it was a very intriguing read.

fashion, says on October 4, 2010, 3:23 PM

Nice work, thanks for the report\entry, we members of the fashion sector are grateful for your time and energy. I’m currently working on a forum to house all industry professionals under one roof and to provide an area where we can grow together. I've gained a couple excellent ideas for my web page from reading this.

Fairy Lawler, says on September 28, 2010, 11:34 AM

I don¡¯t typically reply to content but I'll in this situation. Warcraft

Wilburn Canterberry, says on September 17, 2010, 11:27 AM

Recently, I didn't give lots of thought to giving comments on site page articles or blog posts and have positioned feedback even much less. Reading through your pleasant content, will support me to do so sometimes.