असलम  ख़ान

लुधियाना (पंजाब).    प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने दावा किया है केंद्र में अगली सरकार संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की ही होगी. साथ ही उन्होंने वामदलों की तरफ इशारा करते हुए यह भी कहा कि कांग्रेस अपने नाराज़ साथियों को मना लेगी. 

प्रधानमंत्री आज लुधियाना में एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित कर रहे थे.  उन्होंने भावी सरकार का ज़िक्र करते हुए कहा कि यह सभी धर्मनिरपेक्ष पार्टियों की ज़िम्मेदारी होनी चाहिए कि केंद्र में सार्थक धर्मनिरपेक्ष सरकार बने. इसलिए सभी इस नेक काम के लिए सभी धर्मनिरपेक्ष दलों को आपसी मतभेद भूलकर एक साथ आना चाहिए.

उन्होंने कल लुधियाना में हुई एनडीए की रैली में गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ होने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के धर्मनिरपेक्ष होने पर सवाल उठाया.  उन्होंने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का ज़िक्र करते हुए कहा कि एनडीए पूरी तरह बिखर चुका है.  अब एनडीए में न तो बीजू जनता दल नहीं है और न ही तेलुगूदेशम्. 
1984 के सिख दंगों का ज़िक्र करते हुए कहा कि उस दर्दनाक हिस्से को हमेशा ज़िंदा नहीं रखा जा सकता.  उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोग सिख दंगों के नाम पर लोगों की भावनाएं भड़काकर अपनी सियासत चमकाना चाहते हैं. साथ ही उन्होंने यह भी दावा कि सरकार ने प्रभावितों को पहले से ज़्यादा मुआवज़ा दिया है. उन्होंने सिख समुदाय के लोगों से अपील की कि वे किसी के बहकावे में न आकर असलियत को समझने की कोशिश करें.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here