Thursday, June 4th, 2020

नाथ्पा झाकरी जल विद्युत स्टेशन ने किया रिकॉर्ड बिजली उत्पादन

संजय अरोड़ा नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े 1,500 मेगावाट वाले नाथ्पा झाकरी जल विद्युत स्टेशन (एनजेएचपीएस) ने एक और उपलब्धि हासिल की है। इस स्टेशन ने जुलाई, 2009 के दौरान रिकॉर्ड 11,440 लाख विद्युत इकाइयों का उत्पादन किया है जबकि लक्ष्य 10,090 लाख विद्युत इकाई उत्पादन का था। इसने पिछले साल इसी अवधि में किये गये उत्पादन को पीछे छोड़ दिया है। एनजेएचपीएस सार्वजनिक क्षेत्र की इकाई सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड़ का उपक्रम है। इस स्टेशन से प्रति दिन 369 लाख विद्युत इकाइयों का उत्पादन किया जा रहा है। चालू वित्ता वर्ष में एनजेएचपीएस ने 31 जुलाई, 2009 तक कुल 32,990 लाख विद्युत इकाइयों का उत्पादन किया है जबकि लक्ष्य 22,180 लाख विद्युत इकाइयों का उत्पादन था। यह उपलब्धि उस समय हासिल की गई जब कमज़ोर मानसून तथा नदियों में कम पानी के कारण देश बिज़ली की घोर कमी का सामना कर रहा है. जुलाई, 2009 में एनजेएचपीएस द्वारा 105.26  प्रतिशत संयंत्र उपलब्धता फैक्टर (पीएएफ) हासिल किया गया है और अब इस स्टेशन का संयंत्र उपलब्धता फैक्टर (पीएएफ) 102.88 प्रतिशत है। यह उत्तारी ग्रिड में चल रहे किसी भी जल विद्युत स्टेशन का सर्वाधिक संयंत्र उपलब्धता फैक्टर (पीएएफ) है। सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड़ के निदेशक (विद्युत) श्री आर.पी सिंह के अनुसार यह रिकॉर्ड उपलब्धि एनजेएचपीएस द्वारा सिल्ट, जल तथा मशानों के सर्वोत्ताम प्रबंधन, संचालन तथा और अनुरक्षण के कारण प्राप्त की गई है। जुलाई महीने में इस रिकॉड उत्पादन से उत्तारी भारत के राज्य जैसे, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तार प्रदेश, उत्ताराखंड, चंडीगढ़, जम्मू एवं कश्मीर और हिमाचल प्रदेश लाभान्वित होंगे। हिमाचल प्रदेश को इस स्टेशन का हिस्सेदार होने के कारण विद्युत उत्पादन का 25 प्रतिशत बस बार रेट पर मिलेगी और अन्य 12 प्रतिशत बिना किसी दाम के मिलेगी।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment