कश्मीर दौरे पर पहुंचे यूरोपीय यूनियन के सांसदों ने खुद को नाजीवादी बताए जाने पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई। ओवैसी पर परोक्ष रूप से हमला करते हुए सांसदों ने कहा कि अगर हम नाजीवादी होते तो जनता हमें न चुनती।उन्होंने कहा कि हमें भारत की आंतरिक राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है। हम कश्मीर की वास्तविक स्थिति को देखने आए थे। यहां सब ठीक चल रहा है।

एक अन्य सासंद ने कहा कि वेबसाइट और विकीपीडिया पर हमें नाजीवादी बताया जा रहा है, जो गलत है। हम भी राजनेता हैं और विवादों से हमारा अक्सर सामना होता रहता है। इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता।

बता दें कि ओवैसी ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए लिखा कि यूरोपीय यूनियन के सांसद जो कि इस्लामोफोबिया नाम की बीमारी से पीड़ित हैं, वो मुस्लिम बहुल घाटी जा रहे हैं। मुझे यकीन है कि वहां के लोग उनका स्वागत ‘वारे पेठ-खोश पेठ’ से करेंगे। गैरों पर करम अपनों पर सितम, ए जान-ए-वफा ये जुल्म न कर, रहने दे अभी थोड़ा सा धरम। PLC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here