Friday, January 24th, 2020

नागरिकता संशोधन विधेयक आंबेडकर के संविधान की हत्त्या


जिन्नाह के साथ सावरकर और हिन्दू महासभा की टू नेशन थ्योरी को देश क़बूल नहीं करेगा: तारिक़ अनवर

आई एन वी सी न्यूज़  

नई  दिल्ली ,

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता श्री तारिक अनवर ने नागरिकता संशोधन विधेयक पर कहा है कि भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर जिन्ना की सोच को भारत पर थोपने पर आमादा है. उन्होंने कहा कि इतिहास इस बात का साक्षी है जो देश धर्म के आधार पर बने आज उनकी कमर पूरी तरह से टूट गई है. दुनिया के सामने वह पूरी तरह बेनक़ाब हो गए हैं. उन्होंने कहा कि विभाजन के वक्त महान स्वतंत्रा सेनानी बापू, देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित नेहरू से लेकर मौलाना आजाद डॉक्टर अंबेडकर सरदार पटेल समेत अनेकों सपूतों के सामने बहुत बड़े चैलेंज थे लेकिन उन्होंने धर्म के आधार पर भारत को नहीं बनने दिया.

 उन्होंने कहा कि इतिहास के पन्ने इस बात के साक्षी हैं सावरकर से लेकर जिन्ना तक सब ने धर्म के आधार की राजनीति की. जिन्ना की सोच पर सावरकर ने आपत्ति नहीं जताई और 1937 में हिंदू महासभा ने टू नेशन थ्योरी दी थी. उन्होंने कहा कि इतिहास के पन्नों अगर देखा जाएगा तो कांग्रेस पार्टी ने हमेशा विभाजन का विरोध किया. श्री अनवर ने कहा कि आज जिस तरह से मोदी सरकार एक बार फिर गांधी पर जिन्ना की सोच को भारतीयों पर थोपने की कोशिश कर रही है उसे इतिहास में एक काले दिन के तौर पर याद किया जाएगा.

 उन्होंने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि स्वामी विवेकानंद जी ने शिकागो कॉन्फ्रेंस में भारत का पक्ष रखते हुए कहा था कि हम उस देश से आते हैं जहां सभी धर्म के सताए हुए लोगों को न्याय मिलता है. श्री अनवर ने कहा कि बीजेपी विवेकानंद जी को भी भूल गई. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा धर्म के आधार पर चीजों का विरोध किया है और आगे भी हम पूरी ताकत से विरोध करेंगे. उन्होंने कहा कि जिस तरह से आसाम से लेकर पूरा नार्थ ईस्ट और भारत के विभिन्न कोनों में मोदी सरकार के इस काले कानून का विरोध हो रहा है उसे सरकार को देश का मूड समझना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस बिल के समर्थन करने वाले भी यही माने जाएंगे कि उन्होंने गांधी पर जिन्नाह को थोपने की कोशिश की है.

 उन्होंने कहा कि संविधान की आत्मा की हत्या बीजेपी कर रही है. उन्होंने कहा कि देश आज आर्थिक मंदी से जूझ रहा है. पूर्व रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर रघुराम राजन ने चेतावनी दी है कि अगर धर्म के आधार पर भारत आगे बढ़ा तो यह देश की अर्थव्यवस्था के लिए ठीक नहीं होगा, इसलिए बीजेपी को देश के असल मुद्दों पर बात करनी चाहिए. रोजगारी गरीबी भुखमरी आज भात भात कह कर लोग मर रहे हैं. बीजेपी को इस पर बात करनी चाहिए और समस्याओं का समाधान करना चाहिए.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment