Close X
Sunday, October 25th, 2020

नहीं मालूम की क्यों सरकार हमसे खफा है 

मशहूर शायर मुनव्वर राना की बेटी सुमैया राना आज तीसरे दिन भी पुलिस की नजरबंदी में रहेंगी। सुमैया ने बताया कि अभी भी अपार्टमेंट के नीचे पुलिसवाले बैठे हैं। मैंने कमिश्नर को फोन किया था लेकिन उनसे बात नहीं हो पाई। फिलहाल, पता चला है कि अभी कल तक नजरबंद रखा जाएगा। वहीं, इस मुसले सुमैया के पिता मुनव्वर राना ने कहा सरकार के दिल मे डर बैठ गया है कि अब वह जाने वाली है। दैनिक भास्कर से बातचीत में मुनव्वर राना ने कहा कि देखिए, जो हालात हैं आजकल देश में, उसके लिए यह औरतें प्रदर्शन करना चाह रही थीं। पुलिस ने धारा 144 बताकर नजरबंद कर दिया। रात 11-12 बजे पुलिस वाले आ गए। यहां तक कि हमारे फ्लैट पर भी आए थे ‘दरअसल जब आदमी के मन में डर बैठ जाता है तो वह चिड़िया मारने वाली बंदूक से भी डरने लगता है। अब इस सरकार के दिल मे डर बैठ गया है कि अब हम चले जाएंगे। क्योंकि जो कानून व्यवस्था के हालात है यूपी में, वह छिपे नहीं।’ कंगना रनोट के मसले पर मुनव्वर राना ने कहा कि मुल्क बंटवारे की तरफ बढ़ रहा है। मैं 15 साल से कह रहा हूं कि अब इस मुल्क में अब कोई पाकिस्तान नहीं बनेगा, लेकिन इस हिंदुस्तान में कई हिंदुस्तान बनेंगे। अब आप देखिए मराठा और गैर मराठा में भी बहस शुरू हो गई।

मुनव्वर राना कहते हैं कि योगीजी का काफिला तो हमारे ख्याल से सबसे बड़ा काफिला है। इतना तो मैंने अपने जमाने में न मुलायम सिंह का देखा, न मायावती और न ही अखिलेश का। शायर की हैसियत से मैं एक बात कहता हूं कि काफिलों से चलने वाले हुकूमत नहीं कर सकते हैं। जितनी सिक्योरिटी कम होगी, उतने ज्यादा शहर के हालात से आप वाकिफ होंगे। इन्होंने जुल्म की इंतिहा भी कर दी। सबसे बड़ी बात ये है कि उनकी भाषा बड़ी अभद्र है। गैर शायराना है। ठोक दो, पेल दो, मार दो- ये सब मतलब क्या है। इन्होंने बहुत परेशान किया।
देखिए मेरी बेटी को नजरबंद क्यों किया, यह मुझे बहुत मालूम नहीं है लेकिन सरकार हमसे नाराज रहती है। यहां से लेकर दिल्ली तक सभी नाराज रहते हैं। अभी मैंने एक बयान दिया था उस पर तमाम गालियां मुझे पड़ी। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment