आई.एन.वी.सी,,

लखनऊ,,

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा है कि प्रदेश में बालिकाओं को सरकारी कालेजों में मेडिकल और इंजीनियरिंग की शिक्षा निःशुल्क दी जायेगी। उन्होंने लखनऊ के इसाबेला थाॅबर्न (आई0टी0) कालेज में छात्राओं हेतु नए छात्रावास भवन के निर्माण के लिए एक करोड़ रुपये की धनराशि देने की भी घोषणा की है। उन्होंने कहा कि इस कालेज की भविष्य में जो भी जरूरत होगी उसके लिए वर्तमान सरकार के स्तर से हर सम्भव सहयोग मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि आई0टी0 कालेज को आगे बढ़ाने और विश्वविद्यालय के स्तर तक ले जाने के लिए भी सरकार मदद करेगी। उन्होंने नारी शिक्षा के क्षेत्र में आई0टी0 कालेज के गौरवशाली योगदान के 125 वर्ष पूरे होने के अवसर पर डाक टिकट भी जारी किया। मुख्यमंत्री आज यहां आई0टी0 कालेज के 125वें वार्षिकोत्सव के अवसर पर आयोजित समापन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नई उम्र की सोच से नई आशा जगती है इसलिए हम अपनी नई पीढ़ी से काफी उम्मीद रखते हैं। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे आगे बढ़ें और मेहनत करें। नवीनतम तकनीक अपनायें और भविष्य के सपने देखें। वरिष्ठ समाजवादी नेता श्री जनेश्वर मिश्र का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वे हमेशा सपने देखते थे और कहते थे कि हमें अपने सपनों को पूरा करने के लिए सपने से कई गुना बड़ा संकल्प लेना होगा। संकल्प लेने के साथ-साथ और अधिक संघर्ष करना पड़ेगा तभी हमें सफलता मिलेगी। श्री यादव ने कहा कि जनता के सहयोग से पूरे बहुमत की सरकार बनाने के बाद उनकी जिम्मेदारी बहुत बढ़ गई है और वे प्रदेश को विकास के पथ पर आगे बढ़ाने के लिए हर सम्भव प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि पहले लोगों को यह लगा था कि हम अंग्रेजी और कम्प्यूटर के खिलाफ हैं, इसीलिए इस बार सत्ता में आते ही हमारी सरकार ने नौजवान छात्र/छात्राओं के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए लैपटाप और टेबलेट कम्प्यूटर देने का इन्तजाम किया। उन्होंने कहा कि नवयुवकों में टेक्नाॅलाॅजी सीखने की ललक होती है, जैसे कि आज के युग में लोग बिना किसी प्रशिक्षण के मोबाइल का उपयोग सीख लेते हैं। नए लोगों के हाथों में लैपटाप और टेबलेट कम्प्यूटर की सुविधा मिल जायेगी तो वे चलाना सीख लेंगे। उन्होंने इंगित किया कि नवीनतम तकनीक सीखना समय की मांग है। नवयुवक छात्र नयी तकनीक सीखें और उसका उपयोग प्रदेश को आगे बढ़ाने में करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद विकास के लिए जो प्रयास किये जाने चाहिये थे, वे नहीं हुए। रोजगार के जो अवसर नौजवानों को मिलने चाहिये थे, वे मौजूद नहीं हैं। इसीलिए उनकी सरकार ने बेरोजगार नौजवानों को बेरोजगारी भत्ता देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार प्रदेश के औद्योगीकरण को बढ़ावा दे रही है। उद्योगपतियों को प्रदेश में अपने उद्योग स्थापित करने के लिए सुविधायें उपलब्ध करायी जायेंगी, ताकि नौजवानों के लिए भविष्य में रोजगार के  अनेक अवसर सुलभ हो सकें। इसी क्रम में उनकी सरकार प्रदेश में इन्फाॅर्मेशन टेक्नोलाॅजी (आई0टी0) पार्कों की स्थापना करेगी। उन्होंने कहा कि सपा की पूर्ववर्ती सरकार ने कन्या विद्या धन योजना प्रारम्भ की थी और इण्टरमीडिएट पास बालिकाओं को 800 करोड़ रुपये की धनराशि बांटी थी। उन्होंने कहा कि कन्या विद्या धन योजना दोबारा प्रारम्भ की जायेगी। श्री यादव ने आई0टी0 कालेज के अतीत का जिक्र करते हुए कहा कि इस शिक्षण संस्थान ने नारी शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। यह कालेज उस जमाने का है जब तकनीक विकसित नहीं थी और लोगों के पास अधिक संसाधन और सुविधायें नहीं थीं।

कठिन परिस्थितियों में भी शिक्षा के क्षेत्र में नई बुलन्दियों को छूने वाले इस संस्थान ने नारी का सम्मान और आत्मविश्वास बढ़ाया है। वर्तमान सरकार भी नारी शिक्षा को महत्व देते हुए स्त्री-पुरुष को आगे बढ़ने के समान अवसर प्रदान करेगी। उन्होंने समाज में व्याप्त गैर बराबरी की तरफ इशारा करते हुए महान समाजवादी विचारक डा0 लोहिया का जिक्र किया और कहा कि लोहिया जी भी समाज में सर्वत्र बराबरी की वकालत करते थे चाहे वह स्त्री-पुरुष के बीच हो अथवा जाति की। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया और आई0टी0 कालेज की स्मारिका का विमोचन भी किया। इस अवसर पर कालेज की प्रधानाचार्या ने मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव का स्वागत करते हुए कालेज के इतिहास पर प्रकाश डाला। समारोह को ग्राम्य विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री अरविन्द सिंह गोप ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि युवा मुख्यमंत्री की अगुवाई में शिक्षा के क्षेत्र में प्रदेश आगे जायेगा। उन्होंने आई0टी0 कालेज की उत्कृष्ट शैक्षिक स्तर का जिक्र करते हुए कहा कि पहले यह कालेज एशिया का जाना माना कालेज था परन्तु अब यह दुनिया के बड़े कालेजों में से एक है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि शिक्षा के क्षेत्र में यह कालेज और आगे बढ़ेगा। समारोह में मुख्यमंत्री की पत्नी श्रीमती डिम्पल यादव, कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती रीता बहुगुणा जोशी, चीफ पोस्ट मास्टर जनरल यू0पी0 सर्किल कर्नल कमलेश चन्द्रा, सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार-2 सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक, कालेज की अध्यापिकायें और छात्रायें मौजूद थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here