Close X
Sunday, January 24th, 2021

दो करोड़ प्रति एकड़ नहीं, तो नहीं बनने देंगे हाईवे

चरखी दादरी। निर्माणाधीन ग्रीन कारिडोर 152डी नेशनल हाईवे की अधिग्रहित जमीन का उचित मुआवजा नहीं मिलने पर धरना दे रहे किसानों ने सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन करते हुए स्पष्ट किया कि अगर प्रति एकड़ दो करोड़ का मुआवजा नहीं मिला तो ना कब्जा लेने देंगे और ना ही रोड बनने देंगे। चाहे उन्हें गोलियां ही क्यों ना खानी पड़े।
   मामले में इसके पहले नारनौल से गंगेहड़ी तक ग्रीन कारिडोर की अधिग्रहीत जमीन का मुआवजा वृद्धि की मांग को लेकर दादरी जिले के 18 गांवों के किसानों ने करीब एक वर्ष तक धरना दिया था। इसी बीच सरकार व प्रशासन ने उचित मुआवजा देने का आश्वासन दिया तो कोराना के चलते धरना स्थगित करना पड़ा। बावजूद इसके किसानों को उचित मुआवजा नहीं मिला तो किसानों ने एकजुट होते हुए गांव खातीवास में धरना शुरू कर दिया। धरने की अगुवाई करते किसान नेता अनूप खातीवास ने कहा कि मुआवजा वृद्धि की मांग को लेकर कई बार प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत करवाया। बावजूद इसके कोई समाधान नहीं हुआ तो दोबारा से अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया है। जब तक उनको उचित मुआवजा नहीं मिलता, वे अब प्रशासन व एनएचआई द्वारा उनकी जमीन पर कब्जा कार्रवाई नहीं करने देंगे। इसके लिए चाहे किसानों को कितनी बड़ी कुरबानी देनी पड़े PLC.

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment