Close X
Thursday, April 22nd, 2021

दुष्यंत चौटाला का इस्तीफा मेरी जेब में है

सिरसा. हरियाणा में सरकार में भाजपा की सहयोगी पार्टी जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय चौटाला ने किसान आंदोलन को लेकर बड़ा बयान दिया है. अध्यक्ष अजय चौटाला ने दुष्यंत चौटाला के इस्तीफे की मांग के सवाल पर बयान जारी किया है. उन्होंने कहा कि दुष्यंत चौटाला का इस्तीफा मेरी जेब में हैं. और अगर दुष्यंत के इस्तीफे से कोई हल निकलता है तो अभी इस्तीफा दे देता हूं. अजय ने कहा कि दुष्यंत के इस्तीफे से किसान आंदोलन पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. क्योंकि कृषि कानून केंद्र ने बनाये हैं. और इसका हल भी केंद्र सरकार ही निकाल सकती है.

सीएम ने सांसदों के साथ की मीटिंग
वहीं, मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा बीजेपी के लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों के साथ बैठक की है. बैठक में हरियाणा प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ भी मौजूद रहे. सभी सांसद केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया के आवास पर डिनर पर पहुंचे थे. इस दौरान जहां बजट पर मुख्यमंत्री ने सांसदों से सुझाव लिए, वहीं, किसान आंदोलन, मौजूदा राजनीतिक हालात समेत कई विषयों पर चर्चा हुई. बैठक में केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर, दुष्यंत गौतम, अरविंद शर्मा, धर्मबीर सिंह, संजय भाटिया, समेत हरियाणा बीजेपी के कई सांसद मौजूद रहे

क्या बोले सीएम
सांसदों की चर्चा के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा के बजट को लेकर सांसदों से चर्चा हुई है. सांसदों की अपेक्षाएं होती है और नए सुझाव भी सामने आए हैं. बजट‌ में सुझावों पर अमल किया जाएगा. बैठक में यह भी चर्चा हुई कि केंद्र के बजट से हरियाणा के लाभ के लिए हिस्सेदारी ज्यादा से ज्यादा कैसे बढ़ाई जाए और तमाम विभागों को लेकर जैसे कृषि सिंचाई हेल्थ और शिक्षा में क्या किया जाना चाहिए. किसान आंदोलन पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि इस विषय पर खास चर्चा नहीं हुई है.


क्योंकि केंद्र सरकार का एक मत है कि यह कृषि कानून किसानों के हक में है और जो विरोध करने वाले हैं, सिर्फ विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं और उसके पीछे भी कहीं ना कहीं राजनीतिक हित साधने की कोशिश साफ नजर आती है. फिर भी कहीं लगता है कि कुछ करने की जरूरत है तो केंद्र सरकार हमेशा से ही उसमें संशोधन करने के लिए पहले भी तैयार थी और अब भी तैयार है. PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment