Close X
Sunday, April 18th, 2021

दिवाली की पहली सुबह : और खतरनाक हुई दिल्ली की हवा 

नई दिल्‍ली. दिवाली पर वायु प्रदूषण (Air Pollution) और बढ़ने से दिल्‍ली-एनसीआर (Delhi Air pollution) की हवा की गुणवत्‍ता गंभीर श्रेणी पर पहुंच गई है. इसी के साथ ही भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार रविवार को दिल्‍ली और आसपास के क्षेत्रों में हल्‍की बारिश के आसार बन रहे हैं. ऐसा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव की वजह से होगा. दिल्‍ली के अलावा हिमाचल प्रदेश, उत्‍तर प्रदेश, तमिलनाडु समेत कुछ अन्‍य राज्‍यों में भी बारिश हो सकती है. दिल्ली में दिवाली के दिन शनिवार को वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंच गई और वातावरण में मौजूद ‘पीएम 2.5’ के स्तर में 32 फीसदी हिस्सेदारी पराली जलाए जाने की रही. इसके साथ ही हवा की गति मंद होने के कारण स्थिति ज्यादा खराब हो रही है क्योंकि ऐसी स्थिति में प्रदूषण कण जमा हो जाते हैं.

दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर प्रदूषण स्तर
पूसा में 433(सीवियर)
लोधी रोड में 392(वेरी पुअर)
DU- 479 (सीवियर)
मथुरा रोड- 458,
आया नगर- 424
IIT दिल्ली- 398

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता निगरानी प्रणाली ‘सफर’ के मुताबिक अगर स्थानीय स्तर पर भी वायु प्रदूषण में थोड़ी बढ़ोतरी हुई तो रविवार और सोमवार को बहुत बुरा असर हो सकता है. सफर के अनुसार अगर स्थानीय स्तर पर प्रदूषक कणों का उत्सर्जन हुआ तो शनिवार देर रात एक बजे से रविवार सुबह छह बजे के बीच पीएम 10 और पीएम 2.5 उच्चतम स्तर तक पहुंच सकते हैं. इससे पहले, ‘सफर’ का आकलन था कि यदि दिवाली पर पटाखे नहीं जलाए गए तो दिल्ली की हवा में ‘पीएम 2.5’ कणों की मात्रा पिछले चार साल के मुकाबले सबसे कम रह सकती है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की ओर से कहा गया है कि इस साल दिवाली के बाद पश्चिमी विक्षोभ के कारण हवा की गति बढ़ने से दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता में सुधार होने के आसार हैं. आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण रविवार को हल्की बारिश भी हो सकती है. उन्होंने कहा, 'दिवाली के बाद हवा की गति बढ़ने से दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता में सुधार हो सकता है. रविवार को हवा की अधिकतम गति 12 से 15 किलोमीटर प्रति घंटा रहने की उम्मीद है.'

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख बर्फबारी
जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के ऊंचाई वाले इलाकों में शनिवार को ताजा हिमपात हुआ जिसकी वजह से श्रीनगर-लेह राजमार्ग को बंद करना पड़ा जबकि निचले इलाकों में बारिश हुई. अधिकारियों ने बताया कि आखिरी सूचना मिलने तक उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले, प्रसिद्ध स्की रिजॉर्ट गुलमर्ग और मध्य कश्मीर के पर्यटन केंद्र सोनमर्ग में ताजा हिमपात हुआ है. उन्होंने बताया कि उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले के गुरेज और केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के जोजिला दर्रा और द्रास में भी बर्फबारी हुई है.

आज भी होगी बर्फबारी
उन्होंने बताया कि बर्फबारी की वजह से अधिकारियों ने श्रीनगर-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग को यातायात के लिए बंद कर दिया है, जो जम्मू-कश्मीर को लद्दाख से जोड़ता है और जोजिला दर्रे से गुजरता है. अधिकारी ने बताया, 'बर्फबारी की वजह से एहतियातन सड़क को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है.' इस बीच, कश्मीर घाटी के अधिकतर निचले इलाकों में बारिश हुई है जिससे तापामन नीचे चला आया है. अगले दो दिनों तक बारिश और बर्फबारी का दौर जारी रहेगा और शनिवार रात तथा रविवार को सबसे अधिक बारिश या बर्फबारी होगी. उन्होंने बताया कि इसके बाद मौसम में सुधार होगा. PLC.

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment